You also know that because of this 10 women give betrayal to the husband आप भी जान लें इस वजह से 10 में 7 महिलाएं पति को देती हैं धोखा

रायपुर – आज कल के टाइम पर आपने बहुत देखा होगा या फिर सुना होगा की बहुत से पार्टनर अपने लव लाइफ में खुश नहीं है या फिर अपने रिलेशनशिप में पूरी तरह से संतुष्ट नहीं होने के वजह से अपने पार्टनर के साथ में धोखा देने लग जाते हैं अगर आप भी इस तरह के समस्या से जूझ रहे तो आपको बताएं हैं कि आप किस तरह से जान सकते हैं कि आपके साथी आपको धोखा दे रहा है या फिर नहीं बहुत से ऐसे करें है जिनके वजह से लोग अपने साथी के साथ धोखा करते हैं विवाहेतर डेटिंग एप ग्लीडेन के अनुसार उसने एक सर्वे में पाया कि भारत में 10 में से सात महिलाएं अपने पति को धोखा देती हैं, क्योंकि वे घरेलू कामों में हिस्सा नहीं लेते हैं कई महिलाओं ने अपने साथियों को इसलिए धोखा दिया क्योंकि उनकी शादी नीरस हो गई थी।

भारत में पांच लाख से अधिक लोग उपयोग करते हैं महिलाएं क्यों व्यभिचार करती हैं शीर्षक से एक सर्वेक्षण में खुलासा किया कि बेंगलुरू, मुंबई और कोलकाता जैसे महानगरों में ऐसी महिलाओं की अधिकतम संख्या है जो अपने पतियों को धोखा देती हैं ग्लीडेन में विपणन विशेषज्ञ सोलेन पैलेट ने आईएएनएस को बताया 10 में से चार महिलाओं का मानना है कि अजनबियों के साथ मौजमस्ती के बाद उनके जीवनसाथी के साथ उनका रिश्ता और अधिक मजबूत हुआ है।

कई भारतीय महिलावों में किये गए रिसर्च में इस बात का भी पता चला है कई पार्टनर अपने पार्टनर को एक बेहतर टाइम नहीं देने के साथ – साथ रिलेशनशिप में अपने साथ को टाइम नहीं देने के वजह से भी कई पार्टनर धोखा दे रहे हैं , पांच लाख भारतीय ग्लीडन यूजर्स में से 20 फीसदी पुरुषों और 13 फीसदी महिलाओं ने अपने जीवनसाथी को धोखा देने की बात स्वीकार की ग्लीडन एप को 2009 में फ्रांस में लॉन्च किया गया था यह 2017 में भारत में आया और आज भारत में इसके 30 प्रतिशत सदस्य हैं इनमें 34 साल और 49 साल आयु-वर्ग की विवाहित महिलाएं शामिल हैं।

CgVyapam -PET,PPHT परीक्षा की नई तिथि जारी,जाने कब तक कर सकते है प्रवेश पत्र डाउनलोड

भारतीय महिलाओं ने इस बात को माना कि उनके अपने पति को धोखा देने का कारण यह था कि उनकी शादी नीरस हो गई थी और शादी से बाहर एक साथी को खोजने से उन्हें अपने जीवन में उत्साह का अहसास हुआ सर्वेक्षण से यह भी पता चला है कि भारत में पारंपरिक विवाह में फंसे समलैंगिक लोगों को भी बढ़ती संख्या में अपने लिए इसकी मदद से साथी मिल रहे हैं।

Read More …………..