डेढ़ माह में 22 हजार पेवर ब्लॉक बेचकर कमाए 3.52 लाख रूपए

घरेलू कामों में व्यस्त रहने वाली कई महिलाएं सफलता की नई इबारतें लिख रहीं है। इनमें कोरिया जिले के जनकपुर विकासखण्ड की महिलाएं भी शामिल हैं, जो पेवर ब्लॉक बनाकर अपनी राह मजबूत बना रही है। सुविधा समूह की 12 महिलाओं द्वारा जनकपुर गौठान के आजीविका केन्द्र में डेढ़ माह में ही 28 हजार पेवर ब्लॉक का निर्माण किया है। उन्होंने 16 रुपये प्रति ब्लॉक की दर से 22 हजार ब्लॉक का विक्रय कर 3 लाख 52 हजार रुपए कमाए हैं, इसमें समूह को कुल एक लाख का मुनाफा हुआ है।

पेवर ब्लॉक बनाने वाले सुविधा स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष श्रीमती नीलिमा चतुर्वेदी बताती हैं कि समूह को पंचायत विभाग के बिहान योजना के माध्यम से पेवर ब्लॉक बनाने की प्रेरणा मिली। उन्हें इसके लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत प्रशिक्षण भी दिया गया। इसके बाद उन्होंने पेवर ब्लॉक बनाने का काम शुरू किया। उन्होंने बताया कि ब्लॉक निर्माण के लिए आवश्यक कच्चा माल सीमेंट, गिट्टी, रेत जिले में ही उपलब्ध हो जाता है। इसके अलावा वे हार्डनर इलाहाबाद, ब्लॉक के लिए साँचा कानपुर से एवं वाइब्रेटर और मिक्सर कोरबा जिले से मंगवाते हैं।

समूह के बनाये पेवर ब्लॉक से गांवों में बन रहा पहुंच मार्ग

महिलाओं द्वारा बनाए गए पेवर ब्लॉक से मुख्य सड़क से पेवमेंट ब्लॉक पहुंच मार्ग का निर्माण किया जा रहा है। वर्तमान में विकासखण्ड जनकपुर के ग्राम पंचायत नेरूआ में पहुंच मार्ग निर्माण किया गया है। वहीं ग्राम देवगढ़, हरचौका, डोंगरीपारा, सिंगरौली में भी पेवर ब्लॉक से निर्माण किया जा रहा है, जिसके लिए कुल 30 हज़ार पेवर ब्लॉक का आर्डर समूह को मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.