महंगाई को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी महिला कांग्रेस

रायपुर- महंगाई और पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम को लेकर महिला कांग्रेस आंदोलन करने जा रही है । यह फैसला सोमवार को महिला कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया। प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय शंकर नगर स्थित राजीव भवन में महिला कांग्रेस की प्रभारी सुनीता सहरवात, प्रदेश अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम की उपस्थिति में महिला कांग्रेस प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक हुई। बैठक में सबसे पहले केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन पर चर्चा हुई।

महिला कांग्रेस प्रदेश कार्यकारिणी ने किसान आंदोलन का समर्थन किया और किसान के साथ केंद्र सरकार के रवैये की निंदा की। महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य फूलोदेवी नेताम ने कहा कि 26 जनवरी को लाल किले में जो कुछ भी हुआ, वह किसानों को बदनाम करने और उनके आंदोलन को खत्म करने की साजिश थी। बैठक में महिला कांग्रेस प्रभारी सुनिता सहरावत ने महंगाई का मुद्दा उठाते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार महंगाई पर अंकुश लगाने में पूरी तरह से विफल है।

सहरावत ने यह भी कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत कम होने के बावजूद भारत में पेट्रोल-डीजल का दाम लगातार बढ़ता जा रहा है। सहरावत ने कहा, जब पेट्रोल-डीजल का दाम अधिक रहेगा तो परिवहन का खर्च कम नहीं हो सकता है। इसका सीधा असर रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं के दाम पर भी पड़ रहा है। आवश्यक वस्तुओं का दाम भी आसमान छूने लगे हैं।

सहरावत ने कहा महंगरई की मार से मध्यम वर्ग के परिवार हलाकान हैं। खासकर महिलाओं को ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके बाद महिला कांग्रेस प्रदेश कार्यकारिणी ने चरणबद्ध तरीके से प्रदेश के सभी जिलों में पेट्रोल-डीजल के दाम और महंगाई को लेकर आंदोलन करने का प्रस्ताव पास किया। बैठक में महिला कांग्रेस के जिलाध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्ष भी उपस्थित थे, इसलिए प्रदेश अध्यक्ष नेताम और प्रभारी सहरावत ने आंदोलन करने की जिम्मेदारी जिलाध्यक्षों एवं ब्लॉक अध्यक्षों को दी है।

उन्होंने यह भी कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत कम होने के बावजूद भारत में पेट्रोल-डीजल का दाम लगातार बढ़ता जा रहा है। सहरावत ने कहा, जब पेट्रोल-डीजल का दाम अधिक रहेगा तो परिवहन का खर्च कम नहीं हो सकता है। इसका सीधा असर रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं के दाम पर भी पड़ रहा है। आवश्यक वस्तुओं का दाम भी आसमान छूने लगे हैं।

सहरावत ने कहा महंगरई की मार से मध्यम वर्ग के परिवार हलाकान हैं। खासकर महिलाओं को ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके बाद महिला कांग्रेस प्रदेश कार्यकारिणी ने चरणबद्ध तरीके से प्रदेश के सभी जिलों में पेट्रोल-डीजल के दाम और महंगाई को लेकर आंदोलन करने का प्रस्ताव पास किया। बैठक में महिला कांग्रेस के जिलाध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्ष भी उपस्थित थे, इसलिए प्रदेश अध्यक्ष नेताम और प्रभारी सहरावत ने आंदोलन करने की जिम्मेदारी जिलाध्यक्षों एवं ब्लॉक अध्यक्षों को दी है।

इसके अतिरिक्त बैठक में संगठन के विस्तार पर भी चर्चा हुई। प्रभारी सहरावत ने प्रदेश अध्यक्ष नेताम से कहा कि महिला कांग्रेस के प्रदेश स्तर से लेकर ब्लॉक और जिला स्तर तक के जितने भी पद रिक्त हैं, उन सभी पर जल्द से जल्द नियुक्ति कर ली जाए। इसके अलावा उन्होंने सक्रिय पदाधिकारियों को पदोन्न्त करने की बात भी कही। सहरावत ने संगठन से और महिलाओं और युवतियों को जोड़ने के लिए कहा है।

22 को जिला स्तरीय, 25 को प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन होगा

महिला कांग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने बताया कि महिला कांग्रेस 22 फरवरी को सभी मिलों में मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी। इसके बाद 25 फरवरी को रायपुर में प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन में शाहमल होने के लिए सभी बलॉक और जिलों से महिला कांग्रेस पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता रायपुर आएंगे। राजपूत ने यह भी बताया कि प्रदर्शन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन भी किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.