गांवाें में जल जीवन और शहर में अमृत मिशन बुझाएगा प्यास

बिलासपुर – गर्मी के दिनों में अब ग्रामीणों को बूंद-बूंद पानी के लिए तरसना नहीं पड़ेगा। केंद्र सरकार ने ग्रामीण इलाकों में पानी की दिक्कत को दूर करने के लिए जल जीवन मिशन योजना की शुरुआत कर दी है। केंद्र सरकार की दो महत्वाकांक्षी योजना शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में लोगाें की प्यास बुझाएगा। पीने का पानी मिलेगा साथ ही निस्तारी के लिए भी भरपूर पानी की आपूर्ति होगी। अमृत मिशन योजना के तहत शहरी लोगों को चौबीस घंटे पानी की आपूर्ति होगी। शर्त इतनी है कि जितना पानी का उपयोग करेंगे उस हिसाब से बिल का भुगतान भी करना पड़ेगा।

668 ग्रामों में जल जीवन मिशन बनेगा मददगार

जल जीवन मिशन योजना के तहत जिले के 668 गांव में पानी की आपूर्ति होगी। इन गांवों के हर एक घर में पाइप लाइन बिछाई जाएगी और दो वक्त सुबह और शाम पेयजल की आपूर्ति की जाएगी। सुबह के वक्त दो घंटे और शाम के वक्त दो घंटे नियमित रूप से ग्रामीणों को पानी मिलेगा।

कुल बजट 802 करोड़

जिले के 668 गांव के एक लाख 83 हजार 728 घरों में पहुंचेगा पानी।

195 गांवों में टंकी और पाइप लाइन बिछाने 246 करोड़ का बजट

बिल्हा, मस्तूरी, तखतपुर और कोटा ब्लाक के 383 गांवों के में सिंगल विलेज जल आपूर्ति योजना के लिए 335 करोड़ का प्रविधान

ऐसे पहुंचेगा लोगों के घर पानी

मटियारी एनीकट से मंगला पासिद समूह जल प्रदाय योजना: बिल्हा ब्लाक के 17 गांवों के 4297 घरों में पानी पहुंचेगा।हरदी एनीकट से हरदी भटचैरा समूह जल प्रदाय योजना- मस्तूरी विकासखंड के 21 गांवों के 6064 घरों में पानी पहुंचाया जाएगा।

भीनसाझर-मोहभट्ठा-खम्हरिया समूह जल प्रदाय योजना- कोटा के 17 और तखतपुर के 14 गांवों में पानी पहुंचाया जाएगा। जिससे 9 हजार घरों को पानी मिलेगा।

चपोरा-बारीडीह-बानाबेल समूह जल प्रदाय योजना-कोटा विकासखंड के 21 ग्रामों में के 5 हजार 885 घरों मेें पहुंचेगा पानी।

बिलासपुरवासियाें के टपकेगा अमृत का बूंद

कार्य-72 एमएलडी प्लांट का निर्माण

कार्य प्रारंभ हुआ- चार अक्टूबर 2017

कुल लागत-301 करोड़ स्र्पये

शहर के भीतर बिछेगी 276 किलोमीटर पाइप लाइन

ब तक कार्य-245 किलोमीटर पाइप लाइन

शहर से बाहर बिछेगी पाइप लाइन-26.63 किलोमीटर

ठेका कंपनी- द इंडियन ह्यूम पाइप लिमिटेड मुंबई

Leave A Reply

Your email address will not be published.