रायपुर – डीडी नगर थाने में बर्खास्त होने के बाद भी सरकारी कार्यालय में उपयोग होने वाली सील साइन करने का मामला सामने आया है। मामले में पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।3-सीजी एयर स्क्वाड्रन एनसीसी के विंग कमांडर रजत गुप्ता ने थाने में शिकायत दर्ज करवाई। उन्होंने बताया कि विंग का कार्यालय सुंदर नगर में स्थित है, जहां पूर्व में रणजीत शेखर भूतपूर्व सीजीआई के पद पर वर्ष 2010 से 2019 तक पदस्थ थे।

रक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 19 अगस्त को उनका स्थानांतरण 04-पीबी एयर एनसीसी लुधियाना कर दिया गया। इसके बाद 24 फरवरी 2021 को रक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। बर्खास्तगी के बावजूद उक्त कर्मचारी द्वारा व्यक्तिगत पत्राचार में अनाधिकृत रूप से कार्यालयीन पद मुद्रा, कार्यालय का पता और फाइल रिफरेंस नंबर का प्रयोग किया जा रहा था। थाने में शिकायत के बाद पुलिस ने अलग-अलग धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

शादी का झांसा देकर दुष्कर्म, आरोपित के खिलाफ जुर्म दर्ज

रायपुर के डीडीनगर क्षेत्र में 24 वर्षीय युवती से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। मामले में जानकारी देते हुए डीडीनगर थाना प्रभारी योगिता खापर्डे ने बताया कि साल 2015 से आरोपित उगेश सारथी युवती से शादी का झांसा देकर लगातार शारीरिक संबंध बनाता रहा। युवती ने जब शादी की बात की इन्कार कर दिया। इस मामले में पुलिस ने युवती की शिकायत पर आरोपित उगेश सारथी के खिलाफ आइपीसी की धारा 376 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है। इस मामले में जांच जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.