पश्चिमी यूपी की 19 विधानसभा सीटों पर सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया। हालांकि घने कोहरे के कारण कुछ मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की संख्या कम रही लेकिन कुछ बुथों पर सुबह से ही लंबी लाइन लगी हुई है। मेरठ समेत वेस्ट की सभी 19 सीटों पर संवेदनशील और अतिसंवेदनशील क्षेत्र में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। आज शाम छह बजे तक मतदान किया जाएगा।

 
पश्चिमी यूपी की 19 विधानसभा सीटों पर सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो चुका है। संवेदनशील और अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा के पुख्ता इंजताम किए गए हैं। बताया गया कि चार शहरों के सभी विधानसभा क्षेत्रों में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। मेरठ में सात, मुजफ्फरनगर में छह, बागपत में तीन और शामली जनपद में तीन विधानसभा सीटों के लिए मतदान जारी है।

बागपत में वोट डालने के लिए मतदाताओं में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। बड़ौत विधानसभा के फतेहपुर पुट्ठी प्राथमिक विद्यालय नंबर-2 में सुबह ही लंबी लाइन लग गई। बिनौली के प्राथमिक विद्यालय में भी मतदाताओं की सुबह से ही लंबी लाइन लगनी शुरू हो गई, जबकि दोघट मे मशीन काम नहीं कर रही है। उधर, शामली के कांधला में कोहरे की वजह से अभी मतदाता नहीं पहुंचे है। वहीं मुजफ्फरनगर के रतनपुरी क्षेत्र के सिकंदरपुर में मतदान शुरू हो गया है।

ईवीएम मशीन बंद पड़ी

मेरठ में मशीनों में नमी होने के कारण कई स्थानों पर मतदान शुरू नहीं हो सका है। सभी जगहों पर मशीनों को ठीक करने का काम किया जा रहा है। अब ऐसे में मतदान प्रभावित होगा। वहीं शामली जनपद के वीवी इंटर कॉलेज में ईवीएम मशीन खराब। यहां पर भी अभी तक मतदान शुरू नहीं हो सका। शामली के कांधला थाना क्षेत्र के डूंडुखेड़ा गांव में गरीब मतदाताओं को डराने-धमकाने की सूचना मिलते ही अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर भेजा गया है। वहीं इस मामले पर समाजवादी पार्टी ने ट्वीट किया है।

बता दें कि लोकतंत्र के इस महापर्व में 26.25 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। जिले में 1172 मतदान केंद्रों पर 2962 बूथ बनाए गए हैं। बुधवार देर रात 2962 पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों पर पहुंच गईं। मेरठ में देर रात तक पोलिंग पार्टियों की बसों को रवाना किया गया।

बागपत जनपद के कस्बा अमीनगर सराय के शीलचन्द इंटर कॉलेज के बूथ संख्या 113 पर ईवीएम मशीन करीब एक घंटे से बंद पड़ी है। यहां भी मतदान प्रभावित हुआ है।  उधर, शामली में कैराना के पब्लिक इंटर कॉलेज में मतदाताओं की कतार लगी है।

मुजफ्फरनगर में बुढ़ाना से भाजपा प्रत्याशी उमेश मलिक अपनी पत्नी के साथ मतदान करने पहुंचे। जिले में छह विधानसभा सीटों के मतदान चल रहा है। सुरक्षित सीट पुरकाजी के अलावा मुजफ्फरनगर सदर, बुढ़ाना, चरथावल, खतौली, मीरापुर के लिए 20 लाख 20 हजार 826 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं। साल 2012 में मतदान का प्रतिशत 59.17, जबकि 2017 में 67.16 और लोकसभा चुनाव 2019 में 68.31 प्रतिशत मतदान हुआ था। जिले में इस बार कुल मतदान केंद्र 862 और मतदेय स्थल 2251 हैं।

घने कोहरे के बीच मतदान

पश्चिमी यूपी के अधिकतर जिलों में आज सुबह से ही घना कोहरा रहा, बावजूद इसके लोग घरों से निकलकर बड़ी संख्या में सुबह के समय ही मतदान करने पहुंच गए। वृद्धजनों से लेकर युवाओं तक में मतदान को लेकर जोश नजर आया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.