ट्रैवल एसोसिएशन ने कहा, गोवा और वाराणसी की चाहिए डायरेक्ट फ्लाइट

रायपुर- अभी के समय में राजधानी रायपुर से गोवा और वाराणसी के लिए यात्रियों की मांग जबरदस्त है। मगर, सीधी फ्लाइट न होने के कारण यहां जाने में हवाई यात्रियों को 15 से 18 हजार रुपये लगते हैं और साथ ही आठ घंटे का समय भी बर्बाद होता है। ट्रैवल्स कारोबारियों का कहना है कि अगर इन दोनों क्षेत्रों के लिए सीधी फ्लाइट सेवा शुरू हो जाए, तो ज्यादा किराया और इतने ज्यादा लगने वाले समय से बचा जा सकता है।

इसे लेकर ट्रैवल्स कारोबारियों ने विमानन कंपनियों को पत्र भी लिखा है। अगर इन क्षेत्रों के लिए हवाई सेवाएं शुरू हो जाती हैं, तो यात्रियों को काफी राहत मिलेगा। ट्रैवल्स कारोबारियों का कहना है कि इन क्षेत्रों के साथ ही तिरुपति व शिर्डी के लिए भी हवाई सेवाएं शुरू होनी चाहिए। इन क्षेत्रों के लिए भी रायपुर से काफी मांग है।

हवाई किराया अभी भी सस्ता

दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद सहित अन्य क्षेत्रों के हवाई किराये अभी भी काफी कम बने हुए है। हालांकि, सभी फ्लाइटें फूल ही जा रही है। विशेषकर दिल्ली फ्लाइट में तो ट्रैफिक काफी ज्यादा है। ऐसा पहली बार है कि जनवरी में भी हवाई किराया काफी कम कम रहा और फरवरी बीतने को है तो महंगे हवाई किराये से लोगों को राहत है।

लोगों का किराया और समय बचेगा

इस मामले में ट्रैवल एजेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया के चेयरमैन रमन जादवानी का कहना है कि गोवा और वाराणसी के लिए अगर रायपुर से सीधी फ्लाइट शुरू हो जाए तो हवाई यात्रियों का समय और किराया दोनों बचेगा। इस ओर विमानन कंपनियों को ध्यान देना चाहिए। रायपुर से इन क्षेत्रों के लिए काफी ट्रैफिक मिलता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.