रायपुर – दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर सोमवार को अलसुबह सद्दोपुर के निकट तेज रफ्तार तीन बसें आपस में टकरा गईं। इस हादसें में पांच लोगों की मौत हो गई तथा 10 लोग घायल हो गए। इस हादसे में मरने वालों में छत्तीसगढ़ के के दो लोग हैं। इनमे कोरबा के कुम्हार पास उमरेली की मीना पत्नी फिरत सिंह, जांजगीर-चांपा के नीम चौरा पारा सकरा के रोहित पुत्र बरतराम सिंहमार शामिल हैं। ये लोग बस में किस काम के लिए जा रहे थे, इसकी जानकारी नही मिल सकी है।

सुबह कोहरे के कारण बस चालकों को सामने से आने वाली बसें दिख नहीं रही थी। एक बस के चालक को नींद आने पर उसने सड़क किनारे बस को रोक दी। उसी समय पीछे से आ रही दो बसे उससे भिड़ गई। हादसे में उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के गांव भटवलिया के राहुल कुमार व उसके भाई प्रदीप कुमार पुत्र सुरेश राजभर की मौत हो गई। पांचवें की पहचान नहीं हो पाई है।

हादसे में ये हैं घायल

घायलों में उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद नवनीत पुत्र रामवीर सिंह, कुशीनगर के मनोज कुमार पुत्र चंद्रदेव, कुशीनगर के ही हरिशंकर पुत्र फेकू लाल कुमार छत्तीसगढ़, संत कबीर नगर निवासी राम रतन, कुशीनगर के अरविंद पुत्र हरिलाल, कोरबा के खिरथ राम पुत्र दुकालू , चंडीगढ़ की कविता शामिल है। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तीनों बसें पंजाब से दिल्ली को ओर जा रहीं थीं। आगे वाली बस के चालक को नींद की झपकी आ गई।उसने बस का अचानक ब्रेक लगा दिया। इससे पीछे चल रहीं दो बसें भिड़ गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.