रायपुर – मानसून द्रोणिका के प्रभाव से एकबार फिर से मौसम का मिजाज बदलने वाला है। इससे लोगों को भी उमस से भी राहत मिलेगी। मौसम विभाग के अनुसार, प्रदेश में अगले चार दिनों तक लगातार झमाझम वर्षा होने के आसार हैं। बुधवार को कुछ क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा होने के साथ आकाशीय बिजली गिरने की आशंका है।

बीते कुछ दिनों से वर्षा न होने के कारण रायपुर समेत प्रदेश भर में अधिकतम व न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। साथ ही उमस में वृद्धि हुई है। मंगलवार को रायपुर का अधिकतम तापमान 34.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस अधिक है। इसी प्रकार न्यूनतम तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है, जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक है।

इधर, प्रदेश में वर्षा की अनियमितता से स्थिति भी बिगड़ रही है। खेत सूखने लगे हैं। विशेष रूप से ऐसी स्थिति सरगुजा संभाग में देखने को मिल रही है। इन स्थितियों को देखते हुए राज्य के मुख्य सचिव ने आज स्थितियों को जांचा। उन्होंने अधिकारियों को वर्षा की स्थितियों की नियमित समीक्षा करने के निर्देश दिए।

इन क्षेत्रों में हुई वर्षा

सीतापुर-पेंड्रा रोड-चारामा में चार सेमी, मानपुर-ओड़गी-कांकेर में दो सेमी वर्षा दर्ज की गई है। इन क्षेत्रों के साथ ही प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा हुई है।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि मानसून द्रोणिका पूर्व दक्षिण पूर्व की ओर उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी तक स्थित है। साथ ही एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा पश्चिमी मध्य बंगाल की खाड़ी और उससे लगे दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर 1.5 किमी ऊंचाई तक विस्तारित है। इसके प्रभाव से ही बुधवार को प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में गरज चमक के साथ छींटे पड़ने व आकाशीय बिजली गिरने की आशंका है। अगले चार दिनों तक वर्षा की स्थिति में सुधार होने के आसार है।

हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed