माँ बम्लेश्वरी की नगरी डोंगरगढ़ के विकास में कोई कमी नहीं आएगी – मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

घुमका को तहसील बनाने की घोषणा

रायपुर – मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि डोंगरगढ़ मां बम्लेश्वरी की नगरी और हम सब छत्तीगढ़ियों की पहचान है। माता रानी की कृपा से इस क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं आएगी। मुख्यमंत्री ने डोंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के लोगों की मांग पर घुमका को पूर्ण तहसील बनाए जाने की घोषणा की। उन्होंने डोंगरगढ़ क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, खेल की सुविधा के लिए आवश्यक अधोसंरचनाओं के निर्माण का भरोसा दिलाया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज शाम अपने निवास कार्यालय में डोंगरगढ़ के विधायक भुवनेश्वर बघेल एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष नवाज खान के नेतृत्व में आए डोंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों, विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों और समाज प्रमुखों से रूबरू चर्चा कर रहे थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि हमारी सरकार की यह कोशिश है, कि समाज के सभी वर्ग के लोगों को आगे बढ़ने और तरक्की करने का अवसर मिले। हर परिवार एवं व्यक्ति के आय में वृद्धि हो। लोगों के जीवन स्तर में बदलाव आए। उन्होंने कहा कि पौने तीन साल में सरकार की यह कोशिश सफल रही है। समाज का प्रत्येक वर्ग, प्रत्येक तबका और हर परिवार सरकार की किसी न किसी योजना से लाभान्वित हो रहा है। किसानों की कर्ज माफी, सिंचाई कर की माफी, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी से लेकर राजीव गांधी किसान न्याय योजना, सार्वभौम पीडीएस, लघु वनोपज एवं तेन्दूपत्ता संग्रहण, गोधन न्याय योजना और महिला समूहों के ऋण की माफी का उल्लेख करते हुए कहा कि इसका लाभ किसी न किसी रूप में हर परिवार को मिला है।

उन्होंने इस मौके पर राज्य में चिकित्सा शिक्षा, को बेहतर बनाने के लिए कांकेर, महासमुंद एवं कोरबा में मेडिकल कॉलेज की स्थापना तथा भिलाई स्थित चन्दूलाल चन्द्राकर स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय के अधिग्रहण का उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य में चिकित्सा सुविधा को बेहतर बनाने और चिकत्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने की पहल की गई है।

उन्होंने लोगों से दाई-दीदी क्लीनिक, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना तथा मोबाईल मेडिकल यूनिट सुविधा का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाने की अपील की। समाज के निम्न एवं मध्यम वर्ग के प्रतिभाशाली बच्चों को अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए शुरू किए गए स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम उत्कृष्ट स्कूल का उल्लेख करते हुए कहा कि आज इन सरकारी स्कूलों में प्रवेश के लिए होड़ मची है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव-देहात के बच्चे भी बड़े शहरों के बच्चों की तरह फर्राटेदार अंग्रेजी बोलेंगे तो हम सबको लिए गर्व होगा।

डोंगरगढ़ से आए प्रतिनिधिमंडल में पदुमतरा गांव के निवासी भागवत वर्मा भी सपरिवार आए थे। यह वहीं भागवत वर्मा है जिन्होंने माँ वैष्णोदेवी दर्शन के दौरान सांसद राहुल गांधी से आकस्मिक भेंट के दौरान छत्तीसगढ़ सरकार के काम-काज और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा शुरू की गई जनहितैषी योजनाओं से मिलने वाले लाभ के बारे में उन्हें बताया था।भागवत वर्मा ने इस मौके पर राहुल गांधी से मुलाकात का विस्तृत वृतांत भी सुनाया और मुख्यमंत्री को माँ वैष्णोदेवी का प्रसाद भी भेंट किया।

डोंगरगढ़ के विधायक भुवनेश्वर बघेल, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष नवाज खान सहित अन्य जनप्रतिनिधियों एवं विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने भी अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं की सफलता की तारीफ जब आम लोग करते हैं, तो खुशी होती है। विधायक बघेल ने महिला स्व-सहायता समूहों के ऋण की माफी, अनुकंपा नियुक्ति के निर्णय की सराहना की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.