तन-मन समाचार स्वास्थ्य

ठंड में कोरोना का बढ़ रहा है खतरा, कैसे बढ़ाएं अपनी इम्यू‍निटी

कोरोना का खतरा विश्वव्यापी बन गया है। डॉक्टर और वैज्ञानिकों का दावा है कि इम्यू‍निटी के कमजोर होने से कोरोना का खतरा अधिक बढ़ जाएगा। रोग प्रतिरोधक क्षमता हमें कई बीमारियों से बचा के रखती है। छोटी-मोटी ऐसी कई बीमारियां होती हैं जिनसे हमारा शरीर खुद ही निपट लेता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने पर बीमारियों का असर जल्दी होता है।

खतरा उन्हें भी ज्यादा है जो बच्चे बहुत जल्दी-जल्दी बीमार पड़ते हैं। जाहिर है इसका कारण उनकी इम्यूनिटी का कमजोर होना है। कमजोर इम्यून सिस्टम (Weak Immune System) वाले बच्चों को मौसम बदलते ही सर्दी (Cold), खांसी (Cough), जुकाम, बुखार (Fever) जैसी समस्याएं होनी शुरू हो जाती हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता कई तरह के बैक्टीरियल संक्रमण (Bacterial Infection), फंगस संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करता है। इन बातों से यह तो स्पष्ट हो जाता है कि इम्यून पावर के कमजोर होने पर बीमार होने की आशंका बढ़ जाती है. बच्चों को संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा होता है।

बता रहे हैं ऐसे 4 टिप्स जिनसे आप अपने बच्चे की इम्यूनिटी पावर को बढ़ा सकते हैं.

  1. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जरूरी है कि अच्छी नींद ली जाए। बच्चे की इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए जरूरी है कि वो रोजाना पूरी नींद ले। रात में देर तक जागने से हमारी इम्यूनिटी लॉस होने लगती है। बच्चों को कम से कम 9 घंटे की नींद लेनी चाहिए।
  2. ज्यादातर बीमारियां खानपान की वजह से पैदा होती हैं। अगर आपका खानपान ठीक नहीं है तो भी आपकी इम्यूनिटी कम होने लगती है और आप जल्द ही बीमारियों की चपेट में आने लगते हैं। अगर आपका बच्चा बाहर का खाना, जंक फूड्स, पैकेटबंद चीजें, मीठी चीजें, प्रॉसेस्ड फूड्स आदि बहुत अधिक खाता है, तो जाहिर तौर पर उसकी इम्यूनिटी कम होने लगती है।
  3. आपने डॉक्टर्स से सुना होगा कि हमें कुछ भी खाने से पहले हाथ धोने चाहिए। खासकर बच्चों को कोई भी चीज हाथ धोकर ही खानी चाहिए। हाथों के जरिए सारे वायरस और बैक्टीरिया बच्चों के शरीर में हाथों के जरिए ही पहुंचते हैं। इनसे बचने के लिए अपने बच्चे में ये आदत डलवाएं कि वो खाना खाने से पहले हाथ धोएं।
  4. तनाव इंसान को अंदर से खोखला कर देता है। लोग पढ़ने या किसी अन्य काम के लिए बच्चों को डांटकर समझाते हैं, ऐसे में बच्चें तनाव का शिकार हो सकते हैं। बच्चों को तनाव मुक्त रखने से उनकी इम्यूनिटी बढ़ाई जा सकती है।

हार्वर्ड विवि में आधुनिक चिकित्सा पर अध्ययन कर रहे डॉ. विलियम ली ने कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताया है, जो इंसान में मौजूद पांच प्रमुख रक्षा प्रणालियों (रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रणाली, स्टेम सेल, डीएनए, आंतों में पाए जाने वाले अच्छे बैक्टीरिया और रक्त वाहिकाओं) को बीमारियों से सुरक्षित रखने में रामबाण साबित हो सकते हैं।

उनका मानना है कि हमारे शरीर को बाहरी दुष्प्रभावों रोगों से ये पांचों रक्षा प्रणालियां बचाती हैं। जब इन पर किन्हीं कारणों से दबाव पड़ता है तो रोग हमें अपने चपेट में ले लेते हैं। ऐसे में अगर अपने खान-पान से हम शरीर की इन रक्षा प्रणालियों को मजबूत करते रहें तो शुरुआती स्तर में डिमेंशिया से लेकर कैंसर तक को हरा सकते हैं। डॉ. ली 30 वर्षों के चिकित्सा अनुसंधान और 700 से अधिक अध्ययन के बाद यह बताने में कामयाब हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *