Cruise Missile

भारत ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के एक नए हवा से मार करने वाले संस्करण को विकसित कर रहा है। माना जा रहा है कि यह नई मिसाइल 800 किलोमीटर दूर से भी दुश्मन को निशाना बना सकेगी। अभी तक इस सुखोई-30एमकेआई लड़ाकू विमान से छोड़े जाने के बाद यह 300 किलोमीटर दूर तक निशाने को तबाह करने की क्षमता रखती है।

समाचार एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट के अनुसार सूत्रों ने बताया कि ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल की रेंज पहले ही बढ़ाई जा चुकी है। इसके अलाव और अधिक ऊंचाई पर एयरबोर्न किए जाने की क्षमता के साथ यह मिसाइल और अधिक दूरी तय कर सकती है और 800 किलोमीटर या इससे अधिक दूरी पर मौजूद दुश्मन को भी निशाना बना सकती है।

यह मिसाइल हाल ही में तब चर्चा में आई थी जब तकनीकी खामी के चलते यह चल गई थी और पाकिस्तान में गिरी थी। भारतीय वायु सेना की एक इकाई से कमांड एयर स्टाफ इंस्पेक्शन के दौरान हुई इस दुर्घटना की जांच के लिए रक्षा मंत्रालय ने ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ का आदेश भी दिया है। हालांकि इस घटना में कोई नुकसान होने की जानकारी नहीं है।

दुर्घटना के बाद भारत ने पाकिस्तानी अधिकारियों को पत्र लिख कर इस पर खेद व्यक्त किया था। लेकिन, पाकिस्तान इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खींचने की कोशिश कर रहा है। बता दें कि भारतीय वायु सेना ने अपने लगभग 40 सुखोई-30 लड़ाकू विमानों को दुश्मन के खेमे में भारी तबाही मचा सकने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल से लैस किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.