mynews36.com
mynews36.com

चंडीगढ़- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के मुताबिक कर्ज माफी किसानों को सुस्त बनाती है।उन्होंने कहा कि-भाजपा के पास किसानों के लिये कर्ज माफी की योजना नहीं होने से हरियाणा में लोकसभा चुनाव पर कोई राजनीतिक प्रभाव नहीं पड़ेगा।हरियाणा में भाजपा के पहले मुख्यमंत्री खट्टर ने यह भी कहा कि=कांग्रेस की ‘न्याय’ योजना के लिये अलग से बजट नहीं होगा और सभी योजनाओ को बंद करके ही इससे लागू किया जा सकता है।

कर्ज माफी योजना नहीं होने से कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ेगा

एक साक्षात्कार में खट्टर (65) ने कहा, “कर्ज माफी योजना नहीं होने से कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ेगा।किसान परिपक्व हुए हैं।हमने कर्ज माफी की जगह उनके लाभ में सुधार के प्रयास किये हैं।फसलों के बहुत अधिक दाम निर्धारित किये गए हैं।हमने उनके लिये सहायता की घोषणा की है, लेकिन छूट नहीं दी। किसान अपने व्यवसाय को लाभदायक बनाने की हमारी पहल से खुश हैं।उन्होंने इस तरह का फायदा कभी नहीं देखा था।”

उन्होंने कहा,-“हरियाणा में कृषक समुदाय अपने आर्थिक पतन के कारणों को मिटाना चाहते हैं।एक बार जब लोग मुफ्त में कुछ प्राप्त करने लगते हैं, तो वे सुस्त पड़ जाते हैं।वे यहां,वहां और हर जगह से ऋण लेते हैं और वित्तीय प्रबंधन नहीं कर पाते।इस तरह से योजना (ऋण-माफी) कुछ राज्यों में स्थिति के अनुसार किसानों के लिए फायदेमंद हो सकती है, लेकिन हमारे राज्य में नहीं।”

Read More: सात साल की मासूम से 16 साल के किशोर ने किया बलात्कार

उन्होंने कहा,-“कांग्रेस की ‘न्याय’ योजना उनके द्वारा की जा रही राजनीति का एक अलग उदाहरण है।उन्होंने यह नहीं बताया कि इसे लागू करने के लिये इतनी बड़ी राशि का इंतजाम कैसे किया जाएगा। वे अन्य सभी योजनाओं को बंद करके उससे हासिल राशि से ही इसे लागू कर सकते हैं।क्या वे इसके लिए सभी योजनाओं को बंद कर सकते हैं।”

खट्टर ने राष्ट्रवाद पर छिड़ी बहस के लिये विपक्षी दलों को ठहराया जिम्मेदार

उन्होंने कहा कि-देश में राष्ट्रवाद की बहस को भाजपा ने नहीं बल्कि विपक्षी दलों ने हवा दी। उन्होंने “आतंकवादियों की भाषा” बोलकर और पाकिस्तान का समर्थन करके लोगों की भावनाओं से खेलने की कोशिश की।

उन्होंने 2016 में जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान हुई हिंसा के लिये भी कांग्रेस को ठहराया जिम्मेदार

खट्टर ने कहा, “उन्होंने हरियाणा को जलाया।इसके लिये कांग्रेस जिम्मेदार है। वे बांटो और राज करो की राजनीति करना चाहती थी और अब जब उन पर उंगलियां उठ रही हैं तो वे हमें दोषी ठहराने की कोशिश कर रहे हैं। उनके अनुसार अपराध सबसे अच्छा बचाव है। हम उस मसले के राजनीतिकरण के पक्ष में नहीं थे। वे इस पर जितना बात करेंगे उतना ही लोगों को वास्तविकता का पता चलेगा।”

Input-Bhasha

Summary
0 %
User Rating 0 Be the first one !
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Chake de India: भारत के बेटी ने रचा इतिहास,किया कुछ ऐसा काम मिले 3 गोल्ड मैडल

रायपुर-आदिवासी समाज की बेटी हिमा दास ने क्लांदो एथलेटिक्स इंटरनेशनल चैंपियनशिप में एक नही …