Collector reached Quarantine Center as soon
Collector reached Quarantine Center as soon

कोण्डागांव MyNews36 – कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा पदभार ग्रहण करने के पश्चात अपने प्रथम प्रवास में फरसगांव एवं केषकाल स्थित क्वारेंटाईन सेंटरो का दौरा किया। सर्वप्रथम फरसगांव स्थित प्री-मेट्रिक बालक छात्रावास का निरीक्षण किया, जहां उन्होंने क्वारेंटाईन सेंटर में रह रहे श्रमिक बंधुओ से मुलाकात कर उनके कुषल क्षेम की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने सेंटर की व्यवस्थाओ के संबंध में नोडल अधिकारी से पूछताछ की एवं श्रमिको से उनकी समस्याओं को भी जाना। नोडल अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में सेंटर में निवासरत लोगो को प्रतिदिन दो बार स्वल्पाहार, दो बार भोजन, पीने का स्वच्छ पानी, सोने की उत्तम व्यवस्था प्रदान की गई है साथ ही राज्य शासन के आदेष पर मानसिक तनाव दूर करने के लिए जल्द ही मनोरंजन हेतु टेलीविजन सेटो, रेडियो की व्यवस्था की जायेगी एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि के लिए प्रतिदिन आयुर्वेदिक काढ़े का भी प्रयोग भी किया जा रहा है।

इसके पश्चात कलेक्टर जिले के प्रवेष द्वार खालेमुरवेण्ड स्थित स्क्रीनिंग सेंटर एवं क्वारेंटाईन सेंटर पहुंचे। जहां श्रमिको से मुलाकात के साथ स्क्रीनिंग सेंटर में उपस्थित अधिकारियों से बात कर उन्हें जिले में प्रवेष करने वाले समस्त अन्य राज्यों से जिले में आए श्रमिको की पूरी तरह जांच के साथ संपूर्ण जानकारी लेने के पश्चात ही उन्हें क्वारेंटाईन सेंटर भेजने के निर्देष दिए। इसके अलावा उन्होंने केषकाल स्थित पोस्ट मेट्रिक छात्रावास में पुरुषों एवं प्री-मेट्रिक कन्या छात्रावास में महिलाओं हेतु बनाये गए क्वारेंटाईन सेंटर का भी अवलोकन किया। जिसमें उन्होंने सेंटर में कार्यरत कर्मचारियों-अधिकारियों से वार्तालाप किया एवं क्वारेंटाईन सेंटरो के आसपास किसी भी अन्य व्यक्ति के प्रवेष को रोकने, सोषल डिस्टेंसिंग के पालन, मास्क की अनिवार्यता को सख्ती से पालन करने एवं क्वारेंटाईन सेंटरो में हो रहे खर्च का व्यवस्थित समायोजन के निर्देष दिए साथ ही श्रमिको से बात कर उनका मनोबल बढ़ाया। इसके अलावा श्री मीणा ने श्रमिको को सेंटरो से निकलने के पश्चात जिले में ही रोजगार मूलक कार्यो से जुड़ने के लिए प्रेरित किया साथ ही शासन द्वारा प्रदत्त अवसरो के बारे में भी बताया।

क्वारेंटाईन सेंटरो में प्रतिदिन हो रहा योगाभ्यास

इस दौरान क्वारेंटाईन सेंटर के नोडल अधिकारी ने कलेक्टर को जानकारी दी कि राज्य शासन के निर्देषानुसार सेंटर्स में प्रतिदिन श्रमिको में उत्पन्न हो रही मानसिक तनाव एवं अवसाद दूर करने के लिए प्रतिदिन प्रषिक्षित ट्रेनर्स के द्वारा सेंटरो में प्रातः सभी श्रमिको को योगाभ्यास कराया जा रहा है। साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि के लिए हल्दीयुक्त दूध, आयुर्वेदिक काढ़ो का भी निरंतर सेवन कराया जा रहा है। इस पर कलेक्टर ने सेंटर्स में उपलब्ध व्यवस्थाओं का मुआयना करने के पश्चात संतोष जताते हुए, कार्यरत कर्मचारियों को स्वयं के स्वास्थ्य पर भी ध्यान देने की सलाह दी।

MyNews36 संवाददाता राजीव गुप्ता की रिपोर्ट

MyNews36 App डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.