कवर्धा – खैरागढ़ से भोरमदेव पिकनिक मनाने आ रहे एक निजी स्कूल बस दुर्घटना का शिकार हो गई। घटना सहसपुर लोहारा थाना क्षेत्र ग्राम तालपूर के पास रविवार को सुबह करीब 10 से 11 बजे के बीच हुई। तेज रफ्तार से चल रही बस को चालक ब्रेक से नियंत्रित नहीं कर पाया जिससे गाड़ी का पट्टा टूटने से वाहन दुर्घटना का शिकार हो गयी। इस बस में सवार 17 लोगों में से 10 घायल है, जिसमें से सात गंभीर व इन घायलों में 4 बच्चें भी शामिल है। मौके पर पुलिस की टीम ने घायलों को प्राथमिक उपचार के लिए सहसपुर लोहारा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायलों को जिला अस्पताल कवर्धा रेफर किया गया। यह दुर्घटना इतनी जोरदार हुई कि स्कूल बस का एक हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है।

लोहारा से दो किमी दूर हुआ हादसा

सहसपुर लोहारा थाना से मिली जानकारी अनुसार कुल 17 लोगों मे दो ही पुरुष थे। बाकी महिला व बच्चें शामिल है। जिसमें से प्रीति वर्मा (22) व पुनी अम्मा (55) ज्यादा गंभीर है। वहीं बच्चे स्वयं स्कूल कर्मचारी के बच्चे हैं। वे भी अपने परिजनों के साथ पिकनिक मनाने भोरमदेव आ रहे थे। बताया जा रहा है खैरागढ़ से सुबह के समय भोरमदेव के लिए निकले थे और सहसपुर लोहारा से करीब दो किमी दूर हादसे का शिकार हो गए। थाना प्रभारी मुकेश यादव ने बताया कि मामले को लेकर जांच कर रहे है। घायलों को सहसपुर लोहारा के अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

घटना के बाद मचा हड़कंप,राहगीरों ने की मदद

इस हादसे के बाद मौके पर बस में बैठे लोगों की चीख-पुकार शुरू हो गई, आवाज सुनकर आए राहगीरों ने घायलों की मदद की। डायल 112 व 108 के साथ पुलिस थाना सहसपुर लोहारा को जानकारी दी गई। मौके पर बचाव की टीम ने घायलों को बस से निकला। कई घायल बस के अंदर ही फंस गए थे। ऐसे में उन्हे निकालने के लिए काफी मशक्कत उठानी पड़ी। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां सहसपुर लोहारा के सरकारी अस्पताल में पहले से ही तैयारी पूरी कर ली गई थी।

बड़ा सवाल – स्कूल बस का उपयोग पिकनिक के लिए कैसे हुआ?

इस हादसे के बाद कई प्रकार केसवाल खड़े हो रहे हैं, क्योंकि आमतौर पर स्कूल बस का उपयोग पिकनिक के लिए नहीं किया जा सकता है। लेकिन इसका उपयोग पिकनिक के लिए किया जा रहा था। इसके साथ ही बस भी आन्ध्रप्रदेश की है। ऐसे में आन्ध्रप्रदेश की बस का संचालन खैरागढ़ के निजी स्कूल में किया जा रहा था। बताया जा रहा है कि इस निजी स्कूल में कई कर्मचारी दक्षिण के प्रदेश से है, जो कि यहां शिक्षक के रूप में काम करते हैं।

गंभीर रूप से घायल व्यक्ति

मिथुन मधू(19), रोमा निर्मलकर(22), सुनीता एस(30), प्रीति वर्मा(22), सोनी देवांगन(44), पुनी अम्मा(55), प्रिंयका खोटाने (22)।

इन लोगों को आई हैं सामान्य चोटें

अलवीरा(6), रोंगरी निर्मलकर(33), वाहन चालक सोमेन्द्र क्षत्री(24), सोम्य खोटाने(10), मधू मोहनन(35), नुशरत बानो(29), अर्श मोहम्मद(8), लेखा देवांगन(22), पौनी निर्मलकर(7), रूपा यादव(30)।

पिछले एक सप्ताह के चार सड़क हादसों में 6 लोगों ने गंवाई हैं जान

जिले में लगातार पिछले एक सप्ताह के चार सड़क हादसों में छह लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। जिसमें पहला मामला पिपरिया थाना क्षेत्र के इंदौरी गांव में दो बाइक सवार युवक को यात्री बस ने सामने से टक्कर मारी, जिसमें दोनों युवक की मौके पर ही मौत हो गई। दूसरा मामला सीटी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सिंघनपुरी का है, जहां दो बाइक की आपस मे भिड़ंत हो गई। जिसमें इलाज के दौरान एक बुजुर्ग की मौत हो गई, वहीं तीन युवक घायल हो गए थे। तीसरा मामला सीटी कोतवाली क्षेत्र के रायपुर-जबलपुर नेशनल हाइवे का है, जहां पोंडी चौकी से रात को ड्यूटी करके लौट रहे पुलिसकर्मी पंजाबी ढ़ाबा के पास सड़क पर खडे ट्रक से टकरा गए, गनीमत रहे पुलिस जवान ने हेलमेट लगाया हुआ था, जिससे उसकी जान बच गई। लेकिन पुलिसकर्मी बुरी तरह घायल हो गया था। चौथा मामला सीटी कोतवाली क्षेत्र में ही राजनांदगांव रोड़ में सुमित बजार के सामने दो बाइक की आपस मे भिड़ंत हो गई, जिसमें तीन युवक की मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *