सुकमा।घोर नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के 29 परिवार आज आंध्रप्रदेश से वापस अपनी जमीन पर लौट रहे हैं।पुलिस के अनुसार सलवा जुडूम के दौरान नक्सलियों ने इनके घर जला दिए थे।इसके बाद वे दहशत में आकर अपनी जमीन छोड़ आंध्र प्रदेश में बस गए थे।बता दें कि-सलवा जुडूम अभियान नक्सली हिंसा के खिलाफ शुरू किया गया था।आज सुकमा जिले के एर्राबोर से 7 किमी दूर बसे गांव मरईगुड़ा से इन परिवारों के वापसी की शुरुआत हो रही है।बताया जा रहा है कि-अपने गांव से करीब 75 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के कन्नापुरम गांव में इन्होंने ठिकाना ढूंढा था और मिर्च के खेतों में मजदूरी कर गुजर-बसर कर रहे थेे।इन परिवारों को 15 साल तक आंध्र प्रदेश में न तो वोटर आईडी मिली और न वनभूमि का पट्टा।इन परिवारों को वापस लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे सामाजिक कार्यकर्ता शुभ्रांशु चौधरी ने मीडिया से चर्चा में कहा कि जिन लोगों ने गांव छोड़ा उनके नाम कभी सैकड़ों एकड़ जमीन थी।सैकड़ों एकड़ जमीन के मालिक जिनके खेतों में पहले मजदूर काम करते थे वो मजबूरी में दूसरे के खेतों में दिहाड़ी पर काम करने को मजबूर थे।अब ये 29 परिवार लौट रहे हैं,उनमें से 24 परिवार के नाम पर जमीन यहां मिल चुकी है।

Summary
0 %
User Rating 3.75 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Alcohol: शराब दुकानों में खुलेआम अधिक दामों में बेचे जा रहे शराब-रविकांत तारक

रायपुर।अभनपुर विधानसभा के शिवसेना अध्यक्ष रविकांत तारक(सोनु दिवाना) ने प्रेस विज्ञप्ति जार…