जशपुर।यदि मन में कुछ सीखने की इच्छा हो तो उम्र बाधा नहीं बनती।इसी बात को जशपुर की रहने वाली चंद्रकली गुप्ता चरितार्थ कर रही हैं।उनके बेटे अंशुमन गुप्ता सिंगापुर में अपने परिवार के साथ रहते हैं।अंशुमन की पत्नी मियाको निशीमुरा मूल रूप से जापानी हैं और उन्हें हिन्दी भाषा नहीं आती।वे अंग्रेजी में बात करती हैं,लेकिन सास चंद्रकली को अंग्रेजी नहीं आती।इस वजह से सास और बहू के बीच चाहते हुए भी संवाद नहीं हो पाता।इस समस्या का चंद्रकली ने समाधान तलाश और अब वे अंग्रेजी बोलना सीख रही हैं।चंद्रकली के पति किशोरी गुप्ता ने भी उन्हें इस बात के लिए प्रोत्साहित किया।जशपुर के जिला ग्रंथालय में कलेक्टर निलेश महादेव क्षीरसागर के प्रयास से स्पोकेन इंग्लिस की कक्षाएं चल रही हैं।

बेटे के विवाह के बाद मेरे सामने बहू के साथ संवाद में दिक्कत

mynews36.com

इसी कक्षा में चंद्रकली अन्य महिलाओं के साथ शामिल हो रही हैं।चंद्रकली का कहना है कि-बेटे के विवाह के बाद मेरे सामने बहू के साथ संवाद में भाषाई दिक्कत आ रही थी।हम दोनों चाहते हुए भी एक-दूसरे से बात नहीं कर पाते थे।मैं उसे जानना समझना चाहती थी।

mynews36.com
mynews36.com

अब पोती भी है।वह भी अंग्रेजी में ही बात करती है।पोती मुझसे क्या कह रही है,यह समझने में मुझे दिक्कत होती थी।पति ने प्रोत्साहित किया और अब मैं अंग्रेजी भाषा सीख रही हूं,ताकि बहू और

Summary
0 %
User Rating 4.7 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In Uncategorized

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Westindies tour:वेस्टइंडीज दौरे पर नहीं जायेंगे माही,इस तरह टीम की करेंगे मदद

मुंबई-भारतीय विकेटकीपर महेंद्रसिंह धोनी वेस्टइंडीज के आगामी दौरे पर नहीं जाएंगे।ऐसा माना ज…