देश में सर्वाधिक लघु वनोपज खरीदने वाला राज्य छत्तीसगढ़

राजनांदगांव – मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की रेडियो वार्ता लोकवाणी की 11वीं कड़ी ‘नवा छत्तीसगढ़ : हमर विकास-मोर कहानी’ को आज डोंगरगांव विकासखंड के ग्राम मोहड़ में ग्रामवासियों ने तन्मयता पूर्वक सुना।मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को न्याय, स्वाभिमान और स्वावलंबन की जिंदगी देना राज्य सरकार का लक्ष्य है। इसके लिए राज्य सरकार ने धान का दाम 2500 रुपये क्विंटल, कृषि ऋण माफी, सिंचाई कर माफी, रियायती बिजली, अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के किसानों को खेती के लिए नि:शुल्क बिजली जैसी योजनाएं लागू की, ताकि किसानों के चेहरे पर मुस्कुराहट लौट आए। वनांचल क्षेत्रों में वनवासियों को वन अधिकार पत्र और सामुदायिक वन अधिकार पत्र मिलने से वनांचल क्षेत्र में विकास की नई शुरूआत हो रही है।

निरस्त दावों में से 40 हजार से ज्यादा लोगों को व्यक्तिगत पट्टे और 46 हजार सामुदायिक पट्टे दिए गए। सामुदायिक पट्टे देने के मामले में तो यह एक नई क्रांति हुई है। इस प्रकार प्रदेश में 4 लाख 87 हजार भू-अधिकार पट्टों के माध्यम से 51 लाख एकड़ भूमि का पट्टा दिया जा चुका है, जो देश में सर्वाधिक है। उन्होंने कहा कि तेन्दूपत्ता संग्रहण पारिश्रमिक 2500 रूपए से बढ़ाकर 4000 रूपए प्रति मानक बोरा किया गया, तो पूरे वनांचल में उत्साह की लहर उठी। लघु वनोपज खरीदने का दायरा 7 से बढ़ाकर 31 किया गया, तो देश में सर्वाधिक वनोपज खरीदने वाला राज्य छत्तीसगढ़ बन गया। उन्होंंने कोरोना संकटकाल में पढ़ई तुहंर दुवार योजना के तहत बच्चों की ऑनलाईन पढ़ाई के लिए शिक्षकों को साधुवाद दिया।

जनपद पंचायत सीईओ डोंगरगांव एसआर रावटे ने कहा कि शासन की योजना समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे, इसके लिए निरंतर कार्य किए जा रहे है। शासन की नरूवा, गरूवा घुरूवा, बाड़ी महत्वपूर्ण योजना है, जिससे गांवों में परिवर्तन आया है। उन्होंने ग्रामवासियों को गोधन न्याय योजना के तहत गोबर विक्रय करने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि 15 दिन में भुगतान हो रहा है। उन्होंने जैविक खाद के संबंध में जानकारी दी और कहा कि जैविक खाद भूमि की उर्वरा शक्ति को बढ़ाते हैं, इसलिए रासायनिक खाद के स्थान पर जैविक खाद का प्रयोग करें। उन्होंने ग्रामवासियों से कहा कि शासन की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ लें। ग्राम स्तर पर सरपंच, रोजगार सहायक, मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं अन्य विभाग से शासन की योजनाओं की जानकारी लेते रहे। उन्होंने कहा कि अच्छा स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता है। स्वस्थ रह कर ही हम परिवार और देश के विकास में सहयोग दे सकते हैं। इसलिए कोविड-19 से बचाव रखते हुए, अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दें और सजग रहें।

सरपंच आशा देवांगन ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना से किसानों को फायदा मिल रहा है और उनके जीवन में खुशहाली आई है।छोटी बाई देवांगन ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा दी गई जानकारी में पढ़ई तुहंर दुवार की बातें अच्छी लगी। कोरोना के इस संकट के समय में बच्चों की पढ़ाई जारी रखी गई है, जो सराहनीय है।लता सोनवानी ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश के विकास के लिए बताई गई बातें सुनकर बहुत अच्छा लगा।प्रेमबाई ने कहा कि लोकवाणी हम सब, बड़े-बुजुर्ग सुन रहे है और शासन की योजना की जानकारी मिल रही है, तो अच्छा लग रहा है। इस अवसर पर सचिव देमन साहू, ग्राम के वरिष्ठ नागरिक शंकर लाल देवांगन, पंच उर्मिला बाई, पंच शिवबती, रेणुका, ललिता, खेमिन, निर्मला एवं अन्य ग्रामवासी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Director & CEO - MANISH KUMAR SAHU , Mobile Number- 9111780001, Chief Editor- PARAMJEET SINGH NETAM, Mobile Number- 7415873787, Office Address- Chopra Colony, Mahaveer Nagar Raipur (C.G)PIN Code- 492001, Email- wmynews36@gmail.com & manishsahunews36@gmail.com