Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

Shikshaakarmee: संविलियन परिचर्चा से सहायक शिक्षको को नही कोई सरोकार

वेतन विसंगति और बिना पदोन्नति क्रमोन्नति के संविलियन से सहायक शिक्षक ठगे गए।

Shikshaakarmee

रायपुर- वेतन विसंगति से घिरा संविलियन न तो पदोन्नति का पता और न क्रमोन्नति का बस वर्षो से एक ही पद पर कार्य करते सहायक शिक्षको के लिये किसी अंधियारी गली से कम नही है ऊपर से शिक्षाकर्मी संघो के बाहुबली नेता सहायक शिक्षको के समस्याओ के समाधान की पहल को छोड़कर सत्तारूढ़ दल के साथ याराना बढ़ाने की ललक इनके जले में नमक छिड़कने का काम कर रहा है वो फिर पूर्ववर्ती सरकार के समय सहायक शिक्षको द्वारा किये जा रहे हड़ताल के समय सम्मान सम्मेलन की बात हो या संघीय नेताओ द्वारा जिला स्तरीय स्वागत सत्कार समारोह का आयोजन सभी ने इन्हें नाक ही चिढ़ाया है न कि इनके दर्द में मरहम आज भी जब सहायक शिक्षक वर्तमान सरकार से वादा खिलाफी से परेशान बेहाल वर्ग-3 किसी तरह से अपनी माँग पूरा कराने के उधेड़बुन में लगा है साठगांठ में माहिर संघ भाजपा की गोद में इठखेलिया खेलने वाला एक बार कांग्रेस नेताओं के दुलारा बनने की जोड़तोड़ में हाथ पैर मार रहा है|

Whats App ग्रुप में जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

पर वह भूल गया है कि तमाम शिक्षक जब विसंगति से युक्त संविलियन से बौखलाए सत्ता परिवर्तन की कसमें खाकर सरकार बदलने को उतारू थे और अंततः बदल भी दिए और ऐसे में ये पलटूराम नेता पूर्व सरकार के दामन में चुपा-छुपाई खेल रहे थे और कांग्रेस पार्टी की करारी हार की कण्ठीमाला फेर रहे थें वही नेता आज कांग्रेस दफ्तर और सीएम हाऊस की ब्रम्हांड परिक्रमा की कोशिश कर रहे है नाम दिया है संविलियन पर चर्चा और पूज्य गौरी पूजा के लिए अतिथि कांग्रेस के नेताओ को आमंत्रित किया जा रहा है। वाह रे कर्मचारी नेता आप तो सचमुच बिना चुनाव लड़े राजनेता हो गए आपको कोटिक नमन है प्रभु पर खबरदार सहायक शिक्षको को आपक संविलियन चर्चा के तामझाम से कोई सरोकार नही है न ही हमारी शिरकत की उम्मीद करना क्योकि जहां हमारे अनेको साथी मजबूरी वश 1 जुलाई को विसंगति संविलियन को टूटे मन से बेबसी में स्वीकार करते मुरझाये चेहरे पर झूठी मुस्कान लाने का प्रयास करेंगे वही अनेको साथी संविलियन से वंचित नम आंखों से शासन और संघीय नेताओ को अभिश्राप देते तुम्हारे चर्चा त्यौहार से दूर खड़े ही नजर आएंगे। ये पीड़ा न फेडरेशन की हैं न उसके प्रान्तीय अध्यक्ष मनीष मिश्रा और न ही कोषाध्यक्ष की बल्कि यह मेरी पीड़ा हैं जिसे सहायक शिक्षक बन कर जी रहा हूँ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.