वृक्षारोपण अभियान के साथ वनोत्पाद प्रसंस्करण द्वारा बिहान समुहों एवं गौठान समितियों को स्वरोजगार

कोण्डागांव/Mynews36 प्रतिनिधी- विगत दिनों वनविभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ’बिहान’ एवं रूर्बन मिशन की संयुक्त बैठक का आयोजन कलेक्ट्रेट में हुआ इस बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने की। इस बैठक मे कलेक्टर ने जुलाई के प्रथम सप्ताह मे वन विभाग के सहयोग से सम्पूर्ण जिले मे वृहद अभियान चलाकर वृक्षारोपण करने की कार्ययोजना पर विस्तार से चर्चा की उन्होने कहा कि वृक्षारोपण मे अधिक से अधिक वनोपज एवं फलो के माध्यम से रोजगार दिलाने वाले वृक्षो को लगाया जायेगा। जिसके तहत् मुंनगा, इमली, महुआ, कटहल, अमरूद, जामुन जैसे फलदार वृक्षो के साथ आंवला, कुसुम जैसे औषधिय गुणो वाले पौधो का रोपण किया जावेगा। इसके लिए एफआरए क्लस्टरों एवं गौठानो में विषेष रूप से फलदार वृक्षो को लगाया जायेगा साथ ही ऐसे वृक्ष जिनका व्यवसायिक दृष्टि से गौठानो मे प्रसंस्करण किया जा सकता है उन्हे प्राथमिकता दी जायेगी। हरियाली प्रसार योजना अतंर्गत वन विभाग द्वारा 35 हजार आम, अमरूद, नीबू, आंवला एवं चार लाख मुनगे के पौधे का रोपण होगा साथ ही 55 हजार ग्राफटेड पौधे का वितरण कृषको को किया जावेगा।

इस अवसर पर कलेक्टर ने वनोपजो के उनके पूर्ण परिपक्व होने से पूर्व तोडे़े जाने से उनकी उपयोगिता कम हो जाने की समस्या को ध्यान मे रखते हुए सभी ग्राम पंचायतो को पत्र जारी कर अपने पंचायत के माध्यम से ग्रामीणो को सही समय पर वनोत्पादो को तोड़ने का प्रषिक्षण पंचायत स्तर पर देने के निर्देष दिये साथ ही विभिन्न वनोत्पादो से निर्मित सामानो जैसे इमली के द्वारा चपाती निर्माण, तिखूर प्रसंस्करण से शर्बत एवं बर्फी निर्माण, अचार निर्माण आदि से बिहान समुहो को जोड़ कर क्लस्टर वार वस्तुओं के निर्माण हेतु कार्ययोजना बनाने को कहा।

कलेक्टर ने वनधन केन्द्रो के माध्यम से हो रहे वनोपज संग्रहण की विभिन्न समस्याओं पर गौर करते हुए राजस्व अधिकारियों जैसे तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक, पटवारी को समय-समय पर अपने क्षेत्र के वनोपज संग्रहण केन्द्रो मे जाकर निरीक्षण करने हेतु आदेष जारी किया ताकि इन केन्द्रो मे नगद की कमी तथा व्यवस्थाओं मे किसी प्रकार की कोई भी कमी ना रहे। इस अवसर पर बैठक मे डिप्टी रेंजर वन विभाग महेन्द्र यदु, जिला मिषन प्रबंधक (एनआरएलएम) विनय सिंह, नीति आयोग सलाहकार रजनीष उपस्थित थे।

सीडबाॅल का होगा जिले मे वृक्षारोपण

वनविभाग द्वारा जिले मे इस वर्षाऋतु के प्रारंभ मे पौधारोपण के लिए सीडबाॅल का प्रयोग वनो एंव ऐसे स्थान जंहा पर पेड़ो की संख्या कम है वहां किया जायेगा। इसके लिए वन विभाग द्वारा सीडबाॅल पूर्व मे ही बनाकर रखे गये है। जिनका छिड़काव आगामी दिनों मे किया जावेगा। इसके अन्तर्गत कटहल, जामुन, आवंला, कुसुम के बीजो के सीडबाॅल तैयार किये गये है।

Mynews36 प्रतिनिधी राजीव गुप्ता की रिपोर्ट

Leave A Reply

Your email address will not be published.