seasonal diseases

मुंबई में भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त है।सड़कों और घरों में जमा पानी के कारण पूरे शहर की हालत बड़े नाले जैसी हो गई है।पानी भरा होने के कारण मुंबई और आस-पास के इलाकों में डेंगू-मलेरिया और दूसरे जलजनित रोगों (पानी से फैलने वाली बीमारियां) का खतरा काफी बढ़ गया है।केवल जून में ही मुंबई में मलेरिया के 310 मरीज और डेंगू के 8 मरीज पाए गए थे। बारिश के बाद मच्छरों का प्रकोप बढ़ जाता है, इसलिए डॉक्टर्स का मानना है कि-अगले कुछ दिनों में मुंबई में डेंगू-मलेरिया सहित ढेर सारे रोगों के फैलने का खतरा बढ़ गया है।

बारिश के पानी से इन रोगों का खतरा

सड़कों और घरों में पानी भरने के कारण पूरे इलाकों में मच्छर तो बढ़ ही जाते हैं, इसलिए डेंगू-मलेरिया का खतरा सबसे ज्यादा होता है।इसके अलावा लेप्टोस्पायरोसिस,रैट फीवर और गैस्ट्रोइंटेराइटिस जैसे पानी और गंदगी से फैलने वाले रोगों का खतरा भी बढ़ जाता है।हालांकि इन रोगों से बचाव के लिए अस्पतालों और प्रशासन ने अपने स्तर पर काफी तैयारियां कर ली हैं, मगर फिर भी इनसे बचने के लिए लोगों को कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

बारिश के रोगों से बचाव के टिप्स

पानी से फैलने वाले रोगों से बचें

गंदे पानी के कारण कुछ संक्रामक बीमारियों और सांस की बीमारियों का खतरा काफी बढ़ जाता है।मुंबई में इन दिनों टायफॉइड,हेपेटाइटिस,गैस्ट्रोइंटेराइटिस,डायरिया,पीलिया, वायरल बुखार जैसी बीमारियों से बचाव बहुत ज्यादा जरूरी है।

Summary
0 %
User Rating 4.6 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

MyNews36: दलालों के कब्ज़े में घुमका उप तहसील कार्यालय एवं क्षेत्र के हल्का पटवारी

राजनाँदगाँव/संवाददाता MyNews36 –उप तहसील कार्यालय घुमका वैसे तो शुरू से अव्यवस्थाओं …