बिलासपुर|राजधानी के DPI से लेकर जिले के अधिकारियों ने गर्मियों में स्कूलों में पढ़ाई कराए जाने का फरमान जारी किया हैं जिससे शिक्षक,विद्यार्थी सहित पालक परेशान हैं।यह कहना हैं छ.ग सहायक शिक्षक फेडरेशन का उन्होंने यह भी कहा है कि-मई के भीषण गर्मी में पढ़ाई करायेंगे या बीमारी पालेंगे।बता दे कि-राजधानी से DPI से आदेश आया हैं कि-1 मई से पहली से 8 वीं तक समर कैम्प के माध्यम से शिक्षकों को कमजोर बच्चों के पढ़ाई में कार्यकुशलता बढ़ाए जाने के लिए स्कूलों को संचलित किया जायेगा।वही जिले के कलेक्टरों ने भी आदेश जारी कर कहाँ कि-अगर गर्मी में बच्चों के स्कूल नही आने पर उस स्कूल के प्रचार्य जिम्मेदार होंगे।जिस पर शिव सारथी ने कहाँ मतलब संस्था प्रमुख ही भीषण गर्मी में बच्चों को स्कूल नही आने पर भी जिम्मेदार हैं,और अगर आकर बीमार पड़े तो भी जिम्मेदार,पुरे देश में ऐसा अनोखा आदेश कही भी देखा।यहाँ अधिकारी तरह-तरह के आदेश जारी करते हैं,क्योंकि प्रदेश में शिक्षा विभाग में एकरूपता नही हैं।उन्होंने कहा हैं कि-हम अपने कर्तव्य से भाग नही रहे हैं,प्रदेश के सभी स्चूलों में गर्मी से बचने के कोई संसाधन ही नही है ऐसे में कक्षाएं संचालित करना संम्भव नही है।भीषण गर्मी में ग्रीष्मकालीन आदेश रद्द किया जाये क्योंकि फरमान से शिक्षकों की नही बल्कि पलकों और बच्चें भी चिंतित हैं।

आदेश की कॉपी

आदेश की कॉपी
Summary
0 %
User Rating 0 Be the first one !
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Big News: राजधानी में मां- बेटी की संदिग्ध मौत,जांच में जुटी पुलिस

रायपुर।राजधानी के सरस्वती नगर थाना क्षेत्र स्थित कुकुरबेड़ा इलाके में रविवार की दोपहर उस वक…