साहू युवक-युवती परिचय ग्रुप बना निःशुल्क मैरिज ब्यूरो,3 साल में तय हो चुके 500 से भी अधिक रिश्ते

रायपुर – कुछ लोग भले ही सोशल मीडिया को मनोरंजन या किस्से-कहानियों का जरिया मानें, लेकिन जिले में एक वाट्सएप ग्रुप नि:शुल्क मैरिज ब्यूरो बनकर उभरा है, जिसमें 3 साल में ग्रुप के जरिए 500 से भी अधिक रिश्ते तय हुए है। साहू समाज युवा प्रकोष्ठ के रायपुर सम्भाग उपाध्यक्ष ललित कुमार साहू ने साहू युवक-युवती परिचय ग्रुप बना कर अभिभावकों को बेहतर मंच प्रदान किया है।

युवक और युवतियों के परिचय और रिश्ते तय करने के लिए उन्होंने मार्च 2018 को वॉट्सएप ग्रुप साहू युवक-युवती परिचय बनाया है।उनकी इस अनोखी सोच और पहल का अनेक सामाजिकगणों ने सराहा है।वॉट्सएप ग्रुप की सफलता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि ग्रुप के माध्यम से दो साल में ही करीब 500 जोड़े के रिश्ते तय हुए।

अच्छी पहल, रुक रही है समय और पैसे की बर्बादी

ग्रुप से जुड़े साहू समाज के सदस्यों का कहना है कि सोशल मीडिया का ये प्रयोग बेहद सुखद है। क्योंकि दौड़-भाग भरी जिंदगी व रिश्तों के सीमित होते दायरों में लोगों को अच्छी बहू व दामाद तलाशने में लंबा समय लग जाता है। इस दौर में इस ग्रुप ने रिश्ते तलाशने का अच्छा का प्लेटफॉर्म लोगों को दिया है। ग्रूप से जुड़े समाजिक लोगो का कहना है कि बेटे-बेटी के लिए अच्छे रिश्ते की खोज यदि घर बैठे हो जाए तो अभिभावकों के लिए इससे अच्छा कुछ हो नहीं सकता जिससे पैसे की बर्बादी भी रुकती है।

अलग-अलग कैैटेगरी के मिलते है बायोडाटा- ललित साहू

Lalit Sahu

ग्रुप की विशेषता यह है कि यहां अलग-अलग कैटेगरी के हिसाब से बायोडाटा मिल जाते हैं। इसी नाम से कुल 96 ग्रुप संचालित हो रहे है जिसमे डाॅक्टर, सीए, इंजीनियर, ग्रेजुएट, नॉन मैट्रीक, विधवा, विधुर, तलाकशुदा आदि को अपने मनपसंद रिश्ते चुनने में आसानी हो रही है।ग्रुप के संचालन में ललित साहू के साथ ताराचंद साहू धमतरी ,अंगेश्वर साहू मांढर ,प्रेम साहू रायपुर,लुकेश्वर साहू धरसींवा, लावण्य पतोरा दुर्ग टी आर साहू बालोद का बतौर एडमिन सहयोग मिल रहा है। उल्लेखनीय है कि इस ग्रुप में रायपुर जिले के अलावा प्रदेशभर के कई जिलों से सामाजिकगण व विवाह योग्य युवक-युवती जुड़े हुए है और ग्रुप में लगभग 24000 सदस्य हैं।

ग्रुप से नंबर मिलाकर जुड़े कई रिश्ते

जब किसी को कोई वर-वधु पसंद आता है तो वह बॉयोडाटा में उल्लेखित नंबर पर संपर्क करते हैं। परिचय यही कि बॉयोडाटा वैवाहिक ग्रुप से आपका नंबर मिला। फिर तो दोनों पक्षों से ऐसा व्यवहार होता है, मानों पुराने परिचित हों। इस ग्रुप के माध्यम से ही विगत दिनों यशवंत गंजीर जोरातराई का मनीषा साहू सांकरा, लेखराम साहू रांवा का रेणुका साहू अरमरीखुर्द, नोमेश्वर साहू नारी का रानू साहू चंपारण से रिश्ता तय हुआ है। जिनका रिश्ता तय हो जाता है वे स्वयं होकर ग्रुप एडमिन को इसकी जानकारी देते है या ग्रुप में सगाई व शादी की फ़ोटो शेयर करते है।

नि:शुल्क नि:स्वार्थ सेवा

साहू-युवक युवती परिचय ग्रुप के एडमिन साहू ग्रुप की सफलता का श्रेय स्वयं न लेकर ग्रुप से जुड़े सभी सदस्यों को देते हैं। उनका कहना है सभी सदस्यों के सहयोग से आगे भी इसी तरह की नि:शुल्क और नि:स्वार्थ सेवा देने का प्रयास करेंगे। ग्रुप के सभी सदस्य अपना समय देकर नि:शुल्क और नि:स्वार्थ भाव से काम कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.