Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

रविशंकर विश्वविद्यालय के छात्रों को परीक्षा फार्म भरने में हो रही दिक्कत,परिसर के बाहर नारेबाजी

Ravishankar University students having difficulty filling exam forms,Ravishankar University students having difficulty filling exam forms

Ravishankar University students having difficulty filling exam forms

रायपुर- पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय परिसर में सोमवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के छात्रों ने घेराव करके जबरदस्त प्रदर्शन किया।रविवि ने विभिन्न मांगों को लेकर अपना विरोध प्रकट कर विवि प्रबंधन के खिलाफ हल्ला बोला।छात्रों का आरोप है कि परीक्षा शुल्क अधिक है।कॉलेज में फार्म न भरने के कारण अतिरिक्त शुल्क देकर साइबर कैफे द्वारा फार्म भरने की मजबूरी है।

छात्रों के मुताबिक ऑनलाइन आवेदन करते समय च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) के विषय डिस्प्ले नहीं हो रहे हैं।ऐसे में परीक्षा फार्म सबमिट करना मुश्किल हो रहा है।परीक्षा फार्म भरने के दौरान नेवर्किंग की भी दिक्कत है।कई परीक्षार्थियों ने आइडी बनाने में दिक्कत होने की बात कही।

खासकर स्नातकोत्तर परीक्षाओं के सेमेस्टर फार्म भरने में छात्र-छात्राओं को दिक्कत उठानी पड़ रही है,जिसमें प्रमुख रूप से एबीवीपी के महामंत्री विभोर ठाकुर,विभाग संयोजक विकास मित्तल मोहन पाठक,आकाश शर्मा,अखिलेश त्रिपाठी,तिलक नाथ ,ऋषभ दुबे ,आशीष,शरद, मुकुल,आशुतोष,सौरभ,मयंक,प्रतीक गुप्ता आदि बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

एबीवीपी के छात्रों ने आरोप लगाया कि विगत दिनों विवि द्वारा हरिशंकर कॉलेज में कराए गए जुडो खेल में भी सही मेट न होने के कारण छात्रों को चोट आई थी।यहां पर न ही सुरक्षा और न ही उचित व्यवस्था थी,न ही निर्णायक समिति पात्र थे इस पर कॉलेज और विश्वविद्यालय द्वारा किसी प्रकार का ध्यान नहीं दिया गया।छात्रों ने कहा कि विश्वविद्यालय स्तर का खेल इस तरह लापरवाही की एबीवीपी ने विरोध करती है।

बीपीई को बंद करने की मांग

एबीवीपी ने विश्वविद्यालय की ओर से संचालित बीपीई कोर्स को बंद करने की मांग की।छात्रों का कहना है कि क्योंकि यह विषय चार वर्ष का है, जिससे विद्यार्थियों को कोई लाभ नहीं है नौकरी और कोच बनने की सिर्फ छत्तीसगढ़ तक सीमित रहती है,जो कि बहुत गलत है।छत्तीसगढ़ के विद्यार्थी को पूरे देश में मौका मिलना चाहिए।केंद्रीय शासन द्वारा संचालित बीपीएड को संचालित किया जाए,क्योंकि इससे विद्यार्थियों को पूरे देश में नौकरी, कोच बनने का मौका मिलता है।एबीवीपी ने कुलसचिव को ज्ञापन सौंपाकर समस्या दूर करने की मांग की है।

20 तक आवेदन,फिर लगेगा ज्यादा शुल्क

गौरतलब है कि रविवि ने कॉलेजों और अध्ययनशालाओं के लिए सत्र 2019-20 सेमेस्टर परीक्षा दिसंबर-जनवरी के लिए आवेदन मंगाए हैं। एमए,एमएससी,एमकॉम,एमएससी होम साइंस,बीएड,एमएड,बीपीएड आदि परीक्षाओं के लिए आवेदन मंगाए गए हैं।

रविवि की वेबसाइट़इ पर आनलाइन आवेदन करते समय छात्र-छात्राओं को भारी दिक्कत उठानी पड़ रही है। रविवि ने सेमेस्टर परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन 20 नवंबर तक मंगए हैं। इसके बाद 21 से 26 नवंबर तक 100 रुपये विलंब शुल्क के साथ आवेदन किया जा सकेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.