Rape
Rape

शहडोल- मध्यप्रदेश के शहडोल जिले के जैतपुर थाना अंतर्गत एक गांव में 17 वर्षीय छात्रा के साथ कथित तौर पर बलात्कार (Rape) करने के बाद गला घोंटकर उसकी हत्या करने का मामला सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।शहडोल के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र शुक्ला ने बृहस्पतिवार को बताया कि 11वीं की छात्रा मंगलवार शाम पूजा करने के लिए घर से मंदिर की ओर निकली थी, लेकिन देर शाम तक वह घर नहीं आई। तब परिजनों ने उसकी काफी तलाश की लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

उन्होंने बताया कि बुधवार सुबह लगभग 6 बजे घर के पास झाड़ियों में बेहोशी की हालत में वह पड़ी हुई मिली। किशोरी को उसके परिजन तत्काल जिला अस्पताल शहडोल ले आए जहां बुधवार शाम उसकी मौत हो गई।शुक्ला ने कहा कि प्रथम दृष्टया में यह बात सामने आई कि किशोरी के साथ बलात्कार (Rape) करने के बाद गला दबाकर उसकी हत्या करने की कोशिश की गई है। इसके बाद प्रकरण दर्ज कर विवेचना शुरू की गई।

उन्होंने कहा कि इस मामले में आरोपी आरिफ खान (22) को गिरफ्तार भी कर लिया गया। शुक्ला ने बताया कि आरोपी ने अपना जुल्म कबूल भी लिया है। उन्होंने कहा कि आरोपी के खिलाफ भादंवि की धारा 376 (बलात्कार), 302 (हत्या) और पॉक्सो एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी ने किशोरी को जबरदस्ती ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया और फिर उसे गला दबाकर मारने की कोशिश की। किशोरी के बेहोश हो जाने पर आरोपी ने मृत समझकर उसे झाड़ियों में फेंक दिया था। बाद में उसकी मौत हो गई।

अन्य खबर

सरकार ने तत्काल प्रभाव से पैरासिटामोल एपीआई के निर्यात से हटाया प्रतिबंध

नई दिल्ली- कोरोना वायरस संकट के बीच सरकार ने घरेलू आपूर्ति बढ़ाने के लिए पैरासिटामोल और इसके फार्मूलेशंस के निर्यात पर अंकुश लगा दिया था। इससे पहले 17 अप्रैल को सरकार ने पैरासिटामोल (paracetamol API) के फार्मूलेशंस के निर्यात पर लगे प्रतिबंध को हटा दिया था। अब विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने पैरासिटामोल एपीआई (paracetamol API) के निर्यात पर लगे प्रतिबंध को भी हटा दिया है।एपीआई दवा में मौजूद सक्रिय अवयव होता है। डीजीएफटी की अधिसूचना में कहा गया है कि तीन मार्च की अधिसूचना को संशोधित कर पैरासिटामोल एपीआई के निर्यात पर लगाए गए प्रतिबंध को तत्काल प्रभाव से हटाया जा रहा है।

पैरासिटामोल का इस्तेमाल दर्द निवारक और बुखार के लिए होता है। भारत ने पिछले दो माह में 120 से अधिक देशों को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और पैरासिटामोल की आपूर्ति की है। कोविड19 महामारी के बाद इन दवाओं की मांग बढ गई है।

MyNews36 App डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.