रायपुर – छत्‍तीसगढ़ के ऊपर स्थित हवा के चक्रीय चक्रवात के प्रभाव से शनिवार शाम राजधानी रायपुर में मौसम का मिजाज बदल गया। तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश होने से उमस से राहत मिली।साथ ही रायपुर के अधिकतम तापमान में भी दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दो दिनों में भी प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की वर्षा के आसार बने हुए हैं। साथ ही अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होगी।

शुक्रवार को पारे में आई गिरावट के बाद शनिवार को रायपुर, जगदलपुर व दुर्ग को छोड़कर दूसरे क्षेत्रों के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी हुई। इसी प्रकार न्यूनतम तापमानों में रायपुर व दुर्ग संभाग में बढ़ोतरी हुई और दूसरे क्षेत्रों में ज्यादा बदलाव नहीं हुआ। दोपहर के समय तेज धूप के चलते उमस रही, लेकिन शाम को हुई बूंदाबांदी व ठंडी हवाओं से लोगों को राहत मिला। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी आने वाले दो दिनों तक इस प्रकार ही रहेगा। हालांकि तापमान में बढ़ोतरी होने से उमस से राहत नहीं मिलेगी।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बतायाकि एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रीय चक्रवाती घेरा उत्तर पूर्व मध्य प्रदेश व उससे लगे छत्तीसगढ़ के ऊपर 1.5 किमी ऊंचाई तक है। छत्‍तीसगढ़ प्रदेश के उत्तर में उत्तर से और दक्षिण में दक्षिण से हवा आ रही है। इसके प्रभाव से रविवार 24 अप्रैल को प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में गरज-चमक के साथ छींटे पड़ सकते हैं। साथ ही अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी की संभावना है। बारिश का क्षेत्र मुख्य रूप से दक्षिण छत्तीसगढ़ होगा।

यहां भी हुई वर्षा

मौसम का मिजाज बदलने से प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की वर्षा हुई। नारायणपुर में 8 सेमी वर्षा दर्ज की गई।

ऐसा रहा तापमान

  • रायपुर 39.2 25.4
  • बिलासपुर 41.4 25.5
  • जगदलपुर 37.0 23.8
  • अंबिकापुर 39.2 25.4
  • पेंड्रा 39.1 23.0
  • राजनांदगांव 38.9 26.5
  • (अधिकतम व न्यूनतम तापमान डिग्री सेल्सियस में)

खरीफ फसल की तैयारी करें किसान

वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक जीके दास का कहना है कि अभी की बारिश से घबराने की आवश्यकता नहीं है। कृषकों को चाहिए कि वे आने वाले खरीफ की तैयारी शुरू कर दें। अभी की हल्की बारिश जुताई के लिए लाभदायक है। आने वाले कुछ दिनों में ही यह काम शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इस हल्की बारिश से सब्जियों को भी कोई विशेष नुकसान की संभावना नहीं है।

हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.