mynews36.com

रायगढ़-आठ महीने पहले पुसौर क्षेत्र में 19 वर्षीया छात्रा पर एसिड अटैक के मामले में कोर्ट ने सोमवार को युवक लीलाधर निषाद को दोषी ठहराते हुए 10 साल कैद की सजा सुनाई है।साथ ही 5 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया है।वहीं कोर्ट ने डेढ़ लाख रुपए का पीड़िता को भी देने के आदेश दिए हैं।लीलाधर निषाद मुंह पर कपड़ा बांधकर बाइक पर आया और स्कूल जा रही छात्रा पर एसिड फेंककर भाग निकला था।वो पीड़ित छात्रा से छेड़खानी करता था।विरोध करने पर एसिड से हमला कर दिया।

स्कूल जा रही थीं छात्रा

mynews36.com
mynews36.com

घटना से 15 दिन पहले भी फेंका था एसिड घटना 6 जुलाई 2018 की है।पुसौर ब्लॉक के शंकरपाली गांव निवासी 19 वर्षीय छात्रा दोपहर लगभग 1 बजे स्कूल जा रही थी।इसी दौरान जतरी निवासी लीलाधर निषाद ने उसे रास्ते में रोक लिया और चेहरे पर तेजाब फेंक दिया।छात्रा के चेहरे व गले का कुछ हिस्सा झुलस गया।उसे लोगों ने अस्पताल पहुंचाया और परिजनों को सूचना दी गई।मामले में बयान लेने गई पुलिस को उसने जतरी के लीलाधर निषाद का नाम बताया।सब-इंस्पेक्टर धनीराम राठौर ने युवती का बयान लेने के बाद आरोपी को हिरासत में ले लिया।

15 दिन पहले भी फेंका एसिड

एसिड फेकने में बाद कुछ बूंदें ही कपड़ों पर पड़ी थी।वो स्पॉट काला हो गया था।छात्रा ने इस बात को अनदेखा कर दिया था।लीलाधर निषाद उसे परेशान करता था।वह हर रोज स्कूल आते या जाते समय उससे छेड़खानी करता था।युवती ने कई बार विरोध भी किया लेकिन इस बारे में उसने घरवालों को जानकारी नहीं दी थी।युवती के मना करने पर आरोपी ने उसे सबक सिखाने का मन बनाया था।

पुलिस इसे नही मान रही एसिड हमला

पुलिस ने कहा नही है ये एसिड घटना के दो दिन तक पुलिस एसिड हमले से इनकार कर रही थी।पुलिस ने दावा किया था कि- युवती पर फेंका गया तरल द्रव्य एसिड के बजाय कोई दूसरा पदार्थ है जबकि इधर अस्पताल में डॉक्टरों ने अपनी रिपोर्ट में डॉक्टरों ने अपनी रिपोर्ट में एसिड अटैक बात कह चुके थे।इससे पहले पुसौर में ही तीन बहनों पर भी एसिड अटैक हुआ था।

Summary
0 %
User Rating 3.95 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In क्राइम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Chake de India:बेटी ने रचा इतिहास,किया कुछ ऐसा काम,मिले 3 गोल्ड मैडल

रायपुर-आदिवासी समाज की बेटी हिमा दास ने क्लांदो एथलेटिक्स इंटरनेशनल चैंपियनशिप में एक नही …