पुलिस अधिकारी हरप्रीत सिंह के अनुसार उन्हें मुखबिर से सूचना मिली थी कि सोनू सूद अपनी बहन मालविका के पक्ष में मुंबई के कुछ लोगों समेत प्रचार कर रहे हैं और उन पर प्रभाव बना रहे हैं।

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद के खिलाफ मोगा थाना सिटी में चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में केस दर्ज किया है। हालांकि अभिनेता सोनू सूद का कहना है कि उन्हें क्षेत्र में शिअद प्रत्याशी के समर्थकों के धमकाने की सूचना मिली थी। जिसकी पुष्टि के लिए वहां गया था। पुलिस ने एक गाड़ी को कब्जे में लिया है। इस पर सोनू सूद अपने साथियों के साथ सवार थे। हालांकि वह किसी और के नाम पर पंजीकृत है। गाड़ी में सोनू सूद के साथ मुंबई के उनके कुछ दोस्त भी थे। जबकि 18 फरवरी की शाम से ही बाहरी लोगों को विधानसभा छोड़ने का आदेश था।

बताया जा रहा है कि अभिनेता सोनू सूद पर यह कार्रवाई एसएसपी स्तर से हुई है। शिकायत में कहा गया है कि सोनू सूद मोगा के मतदाता नहीं हैं। जबकि सोनू का कहना है कि वह मोगा के जन्मे और यहीं पले-बढ़े हैं। गौरतलब है कि मतदान वाले दिन (20 फरवरी) सोनू सूद गांव लंडेके जा रहे थे। इसी दौरान उनकी गाड़ी को शिअद की शिकायत पर पुलिस ने रोक ली और अभिनेता को घर भेज दिया। अभिनेता पर मतदाताओं को प्रभाव में लेने का आरोप लगा। बताते हैं कि सोनू सूद को मतदान के दिन घर से बाहर न निकलने का निर्देश दिया गया था।

सोनू सूद से जब्त इंडेवर गाड़ी मोगा के दत्त रोड निवासी हरविंदर सिहं उर्फ काला के नाम पर बताई जा रही है। सूत्रों के अनुसार यह गाड़ी अक्सर ही सोनू सूद के मोगा स्थित आवास पर खड़ी रहती है। उधर, सोनू सूद ने इन आरोपों को नकार दिया और कहा कि उन्हें सूचना मिली थी कि शिअद प्रत्याशी बरजिंदर सिंह बराड़ के बूथ के समक्ष शिअद कार्यकर्ता उनके कार्यकर्ता को धमका रहे हैं और वहां रुपये बांटने पर कुछ विवाद हुआ था। जिसकी पुष्टि के लिए मैं वहां जा रहा था।

पुलिस अधिकारी हरप्रीत सिंह के अनुसार उन्हें मुखबिर से सूचना मिली थी कि सोनू सूद अपनी बहन मालविका के पक्ष में मुंबई के कुछ लोगों समेत प्रचार कर रहे हैं और उन पर प्रभाव बना रहे हैं। जब वह मौके पर पहुंचे तो सोनू सूद लंडेके गांव में एक मतदान केंद्र के बाहर कार में सवार थे। उधर, सोनू सूद विवादों के बाद शूट पर दक्षिण अफ्रीका रवाना हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *