PtRSU Raipur

रायपुर-पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन के बाद जारी पहले चरण की सूची में ढेरों गड़बड़ियां हैं।जिस मकसद से उच्च शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन दाखिले का सिस्टम लागू कराया,वह ध्वस्त हो गया है।आलम यह है कि बिना आरक्षण नियमों का पालन किए विवि ने प्रथम वर्ष में दाखिले के लिए सूची जारी कर दी।

मेरिट सूची में भी अस्पष्टता होने के कारण छात्र और पालक कॉलेजों में भटक रहे हैं।कॉलेजों के लिए भी यह सूची सिरदर्द बन गई है।अब नये सिरे से सूची बनाने की प्रक्रिया कॉलेजों में चल रही है।डिग्री गर्ल्स कॉलेज में नये सिरे से प्रोफेसर्स सूची बनाने में लगे हुए हैं।

कॉलेजों के प्राचार्यों ने बताया कि-ऑनलाइन आवेदन लिए गए तो कॉलेज वाइज मेरिट सूची भी आरक्षण के हिसाब से जारी करनी थी।इस मामले में विवि फेल साबित हो गया है।गुरुवार को पालक और छात्र विवि,कॉलेजों में भटकते नजर आए।कॉलेजों में दाखिले की प्रक्रिया में कई पेंच आ रहे हैं।हेल्पलाइन में कोई मदद नहीं मिल रही है।

जिस कंपनी पर जिम्मेदारी,वह साधारण काम करने में भी रही फेल

कॉलेजों के प्राचार्यों ने बताया कि-रविवि ने सूची में ऑनलाइन आवेदकों की संख्या दर्ज की है,इसके अलावा ऑनलाइन सिस्टम से कोई फायदा नहीं हो पाया है।बता दें कि रविवि ने ऑनलाइन काम करने की जिम्मेदारी जिस कंपनी को दी है,वह पहले भी साधारण कामों को करने में फेल रही है।इस साल रविवि ने कॉलेजों के आवेदन खुद ऑनलाइन मगाएं थे।आवेदन आए,लेकिन कॉलेजों में स्पष्ट सूची नहीं मिलने से एक बार फिर कॉलेजों में काम बढ़ गया है।

सॉफ्टवेयर में भी तकनीकी दिक्कतें

कॉलेजों से मिली जानकारी के मुताबिक-जिस छात्र का नाम मेरिट सूची में है उसके दाखिले के लिए सॉफ्टवेयर के जरिए ऑनलाइन प्रोसेस किया जाता है तो संबंधित छात्र का डेटा ही नहीं मिल पा रहा है।बता दें कि-रविवि ने कॉलेजों में प्रथम वर्ष की कक्षाओं में दाखिले के लिए पहले चरण की मेरिट सूची बुधवार को जारी की।

प्रथम वर्ष में दाखिले के लिए पहले चरण में 36 हजार से अधिक आवेदन आए हैं।इनमें सबसे अधिक बीए के लिए 13 हजार 879 आवेदन,बीएससी के लिए 12 हजार 332 आवेदन,बीकॉम के लिए 6 हजार 781आवेदन हैं।कुल 36 हजार 469 छात्र-छात्राओं की कॉलेजवार सूची जारी होगी।

साइंस कॉलेज में 800 सीटों के लिए आठ हजार आवेदन

जारी सूची के हिसाब से साइंस कॉलेज में करीब 800 सीटों के लिए आठ हजार से अधिक आवेदन आए हैं।डिग्री गर्ल्स कॉलेज में सिर्फ बायोलॉजी में बीएससी की 250 सीटों के लिए पांच हजार से अधिक आवेदन हैं।हालांकि इसमें कट ऑफ 80 प्रतिशत तक है।शहर के प्रमुख कॉलेजों में साइंस कॉलेज,डिग्री गर्ल्स कॉलेज,महंत कॉलेज,दुर्गा कॉलेज में सबसे अधिक मारामारी है।आर्ट में 65 से 70 प्रतिशत और कॉमर्स में 70 से 75 प्रतिशत तक कट ऑफ जा सकता है।

Summary
0 %
User Rating 4.7 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Transfer :तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के स्थानांतरण आदेश जारी

जिले में 12 विभागों के कर्मचारियों का हुआ तबादला कांकेर-उत्तर बस्तर कांकेर 16 जुलाई 2019- …