लॉकडाउन के दौरान जिलों में अवैध शराब के बिक्री पर लगाएं रोकथाम

आबकारी मंत्री श्री कवासी लखमा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दिए निर्देश

आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने प्रदेश के लगभग सभी जिलों में लगे लॉकडाउन के दौरान अन्य राज्यों से अवैध शराब के परिवहन और विक्रय पर प्रभावी नियंत्रण के लिए सभी जिले के अधिकारियों को निर्देशित किया। आज सुकमा जिला मुख्यालय स्थित एनआईसी कक्ष से प्रदेश के वाणिज्यिक कर (आबकारी) मंत्री कवासी लखमा ने समस्त जिलों के आबकारी अधिकारियों की वर्चुअल बैठक ली।

उन्होंने रायपुर, बलौदा बाजार, दुर्ग, बालोद, महासमुंद, बेमेतरा, बिलासपुर, जांजगीर चांपा, कोरबा, रायगढ़, अंबिकापुर, जगदलपुर, सुकमा सहित अन्य जिलों के अधिकारियों से जिलों में अवैध शराब के परिवहन की रोकथाम पर चर्चा करते हुए आवशयक निर्देश दिए।

शासन के आदेशानुसार जिलों में समस्त शराब दुकान के संचालन पर प्रतिबंध लगाने के निर्देशित किया।

मंत्री लखमा ने जिलों में अवैध शराब के प्रकरणों की जानकारी लेते हुए विस्तृत समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने नदी किनारे बसे जिलों में स्थानीय स्तर पर निर्मित अवैध शराब को नष्ट करने और इसके निर्माण पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने के लिए निर्देशित किया। इसके साथ ही सीमावर्ती राज्यों से अवैध शराब परिवहन के प्रभावी नियंत्रण के लिए जांच नाकों पर कड़ाई से गाड़ियों की जांच और कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा की कार्यवाही के दौरान संबधित जिला के एसपी एवं पुलिस विभाग का सहयोग लें।

छोटे एवं मंझोले के साथ बड़े अवैध कारोबारियों पर करे कार्यवाही

उन्होंने कहा की जिन सीमावर्ती जिलों में अवैध शराब के अधिक प्रकरण सामने आते हैं, वहां 3-4 जिलों की संयुक्त टीम का गठन कर कार्यवाही करें। जिलों में पुलिस प्रशासन के सहयोग से अवैध शराब का व्यापार करने वाले छोटे और मंझोले के साथ बड़े कारोबारियों पर सख्त कार्यवाही करें।

प्रदेश की सीमा में अधिक से अधिक जांच और कड़ाई से निगरानी रखने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा की बिना किसी राजनीतिक या अन्य दबाव के अवैध शराब की रोकथाम पर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करें, जिससे राजस्व प्राप्ति में वृद्धि हो और अन्य राज्यों से आने वाली शराब पर प्रभावी नियंत्रण की जा सके। इसके साथ ही उन्होंने अधिकारी कर्मचारियों को स्वयं तथा अपने परिवारजनों को कोरोना से बचाव हेतु शासन की निर्देशों का पालन करने की अपील की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.