अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2021 पर प्रधानमंत्री का योग पुरस्‍कार,इस दिन तक कर सकेंगे आवेदन…..

नई दिल्ली – भारत सरकार का आयुष मंत्रालय 9 नवम्‍बर, 2014 को अपने गठन के दिन से ही विश्‍व स्‍तर पर योगाभ्‍यास अपनाने और स्‍वीकार करने में सुगमता के विज़न के साथ सक्रिय कार्य कर रहा है।आयुष मंत्रालय के प्रमुख कदमों में एक है अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस।इसे अंतर्राष्‍ट्रीय मान्‍यता मिली है। अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस मनाने का उद्देश्‍य दुनियाभर के लोगों को योग के लाभ के बारे में बताना और योग के माध्‍यम से स्‍वास्‍थ्य तथा आरोग्‍य में लोगों की रुचि बनाने केउपाय करना है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दूसरे अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2016 के अवसर पर योग पुरस्‍कारकी दो श्रेणियों एक राष्‍ट्रीय और एक अंतर्राष्‍ट्रीय की घोषणा की थी। घोषणा अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पर की जाती है।इन पुरस्‍कारों का उद्देश्‍य योग प्रोत्‍साहन और विकास से सतत रूप में समाज पर महत्‍वपूर्ण प्रभाव छोड़ने वाले व्‍यक्तियों/संगठनों को मान्‍यता देना है।

कोविड-19 महामारी के कारण 2020 में पुरस्‍कार के लिए आवेदन आमंत्रित नहीं किए गए थे। लेकिन भारत सरकार का आयुष मंत्रालय पिछले वर्ष की तरह ही देश के विभिन्‍न भागों केसफल व्‍यक्तियों तथा अप्रशंसित नायकों और योग क्षेत्र के संस्‍थानों को प्रधानमंत्री के योग पुरस्‍कार (पीएमवाईए) से सम्‍मानित करेगा।पुरस्‍कार My Gov प्‍लेटफॉर्म पर होस्‍ट किया जाएगा। भारतीय मूल के व्‍यक्ति/संस्‍था लिए राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार में दो श्रेणियां होंगी और भारतीय तथा विदेशी मूल के लिए दो अंतर्राष्‍ट्रीय श्रेणियां होंगी।

इन पुरस्‍कारों के लिए आवेदकों/नामितों के पास योग क्षेत्र में समृद्ध अनुभव होना चाहिए और योग की गहरी समझ होनी चाहिए। इस पुरस्‍कार प्रक्रिया के अंतर्गत विचार के लिए सभी दृष्टि से पूर्ण आवेदन सीधे तौर पर आवेदनकर्ता कर सकते हैं या योग के क्षेत्र में काम करने वाले जाने-माने व्‍यक्ति या संगठन द्वारा नामित किए जा सकते हैं। एक आवेदनकर्ता केवल एक श्रेणी के लिए ही नामित किया जा सकता है यानी वर्ष विशेष में राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार या अंतर्राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार में से किसी एक पुरस्‍कार के लिए।

इस वर्ष के लिए नामांकन प्रक्रिया 30.03.2021 से प्रारंभ होगी और प्रविष्टियां प्रस्‍तुत करने की अंतिम तिथि 30.04.2021 है। चयन प्रक्रिया एक सुपरिभाषित प्रक्रिया है जिसके लिए भारत सरकार के आयुष मंत्रालय द्वारा दो समितियां बनाई जाती हैं। ये समितियां हैं – जांच समिति तथा मूल्‍यांकन समिति (निर्याणक मंडल) ये समितियां ही पुरस्‍कार पाने वालों के नामों को अंतिम रूप देने के लिए चयन और मूल्‍यांकन कसौटी तय करेंगी। अभिरूची रखने वाले आवेदक नामांकन प्रक्रिया की समझ और भागीदारी के लिए https://innovateindia.mygov.in/pm-yoga-awards/ पर पीएमवाईए पेज को एक्‍सेस कर सकते हैं।

पुरस्‍कार पाने वालों को एक ट्रॉफी, प्रमाण-पत्र और 25 लाख रुपये का नकद पुरस्‍कार दिया जाएगा। इस पुरस्‍कार की घोषणा 21 जून, 2021 को अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पर की जाएगी। संयुक्‍त विजेता होने की स्थिति में पुरस्‍कार विजेताओं में विभाजित होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.