भोपाल- कोरोना काल में मंदिर खोले जाने से पहले ही विवाद भी शुरू हो गया है।भोपाल में एक पुजारी ने मंदिर में सेनिटाइजेशन मशीन लगाने का विरोध किया है।उल्लेखनीय है कि 8 जून से भारत में मंदिर खोले जा सकते हैं।

एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित मां वैष्णवधाम नव दुर्गा मंदिर के पुजारी चंद्रशेखर तिवारी ने मंदिर में सेनिटाइजर मशीन लगाने का विरोध किया है। पुजारी ने कहा कि चूंकि सेनिटाइजर में अल्कोहल होता है, अत: इसे मंदिर में नहीं लगाया जा सकता।

तिवारी ने कहा कि धार्मिक स्थलों के लिए केंद्र सरकार की गाइडलाइन पर कहा कि शासन का काम गाइड लाइन जारी करना होता है, लेकिन मैं मंदिर में सेनिटाइजर के विरुद्ध हूं।अपनी बात के पक्ष में तर्क देते हुए ‍पुजारी ने कहा कि जब हम शराब पीकर मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकते तो अल्कोहल से हाथ सेनिटाइज करके कैसे घुस सकते हैं।

उन्होंने कहा कि आप मंदिरों के बाहर हाथ धोने की मशीन लगाइए, वहां पर साबुन रखिए। हम इसका पूरी तरह समर्थन करते हैं।तिवारी ने कहा कि वैसे भी व्यक्ति मंदिरों में नहाने के बाद ही प्रवेश करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.