देशभर में दुनिया के सबसे बडे टीकाकरण कार्यक्रम की तैयारियां जोरों पर,शनिवार से होगी इसकी शुरूआत

भारत में दुनिया का सबसे बड़ा कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम शुरु करने की तैयारियां जोरों पर है। अनेक विमानों से कोविड वैक्‍सीन देशभर के हवाई अड्डों पर पहुंचाई जा रही है, जहां से वैक्‍सीन को शहरों और कस्‍बों में भेजा जा रहा है। देश में कोविड टीकाकरण कार्यक्रम शनिवार से आरम्‍भ होना है। असम से गोवा और जम्‍मू-कश्‍मीर से केरल तक टीकों को सुचारु और सुरक्षित रूप से देश के कोने-कोने पर पहुंचाया गया है।

सूत्रों के अनुसार सरकार की ओर से खरीदी गई कोविड कोविशील्‍ड वैक्‍सीन की एक करोड़ दस लाख खुराक का 75 प्रतिशत हिस्‍सा पिछले दो दिन में देश के लगभग 60 निर्धारित स्‍थानों पर पहुंचाया गया। हैदराबाद की भारत बॉयोटेक कम्‍पनी में विकसित स्‍वदेशी कौवक्‍सीन की दो लाख 40 हजार खुराक पहले चरण में 12 शहरों में पहुंचाई गई। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि सभी राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के लिए उनके यहां मौजूद स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों की संख्‍या के अनुपात में वैकसीन का आवंटन किया गया है।

राष्‍ट्रीय प्राथमिकता सूची के अनुसार वैक्‍सीन सबसे पहले स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों और अग्रिम पंक्तियों के कर्मचारियों को दी जाएगी। प्रत्‍येक टीकाकरण सत्र में प्रतिदिन लगभग सौ लोगों को वैक्‍सीन दी जाएगी

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि राष्ट्रपति कार्यालय के परामर्श से पोलियो टीकाकरण दिवस अर्थात पोलियो रविवार अब 31 जनवरी को आयोजित होगा।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद 30 जनवरी को पोलियो राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस का शुभारंभ करेंगे, इस दिन राष्ट्रपति भवन में कुछ बच्चों को पोलियो ड्रॉप्स पिलाई जाएगी। यह निर्णय स्वास्थ्य मंत्रालय ने लिया है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि कोविड प्रबंधन और टीकाकरण की सेवाएं और साथ ही गैर-कोविड आवश्यक स्वास्थ्य सेवाएं भी एक-दूसरे पर प्रतिकूल प्रभाव डाले बिना ही सुगमता से आगे बढ़ सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.