Police bhartee

रायपुर-प्रदेश में पूर्ववर्ती सरकार के राज़ में हुई पुलिस भर्ती परीक्षा की गड़बड़ी को लेकर विधायकों एव महापौर द्वारा मुख्यमंत्री निवास में जाकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू को ज्ञापन सौंपा गया।पिछले वर्ष पुलिस की जो भर्ती निकली थी उस परीक्षा में काफी गड़बड़ी होने के आशंका है जिस कारण विधायकों एवं महापौर ने जाकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा है और कहा है कि-इस परीक्षा को दोबारा लिया जाए और निष्पक्ष रूप से भर्ती कराई जाए पिछले वर्ष जो परीक्षा हुई थी उसमें बहुत बड़े स्तर पर भर्ती में पैसे का लेनदेन किया गया था जिसकी जांच कराई जाए और फिर से परीक्षा कराई जाए कुछ दिन पहले ही पंडित रविशंकर विश्वविद्यालय के सामने परीक्षा दिए हुए छात्रों ने धरना प्रदर्शन करके मांग किया था कि-वह दोबारा परीक्षा चाहते हैं यह मांग को लेकर वह धरने पर बैठे थे उनके ज्ञापन को प्राप्त करने के लिए पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय वहां मौजूद थे साथ ही साथ भिलाई में भी महाविद्यालय के सामने परीक्षार्थियों ने धरना प्रदर्शन किया था इस ज्ञापन को प्राप्त करने के लिए भिलाई के विधायक एवं महापौर देवेंद्र यादव वहां मौजूद थे दोनों ही जगह छात्रों का मांग था कि-निष्पक्ष रूप से दोबारा परीक्षा ली जाए इसी बात को देखते हुए 2 दिन पहले विधायक एवं महापौर मुख्यमंत्री के निवास में जाकर सीएम भूपेश बघेल एवं गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू जी को जाकर ज्ञापन सौंपा और निष्पक्ष परीक्षा की मांग की।

विधायक एवं महापौर देवेंद्र यादव ने कहा कि-हमने फिर से निष्पक्ष परीक्षा की मांग की है और मुख्यमंत्री जी से हमने यह मांग की कि-इस बार जब निष्पक्ष परीक्षा होंगे भर्ती की संख्या को पिछले वर्ष की तुलना में और भी ज्यादा बढ़ाएं ताकि प्रदेश की युवाओं को रोजगार प्राप्त हो।

रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि-जो बच्चे पिछले बार परीक्षा में भाग लिए थे और उनकी आयु इस वर्ष ज्यादा हो जाएगी इस कारण वह इस बार परीक्षा नहीं दे पाएंगे महापौर ने मुख्यमंत्री से और ग्रह मंत्री से निवेदन किया कि-आयु की सीमा को बढ़ा दिया जाए।

एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा ने यह कहा कि-हम सदैव छात्रों के साथ खड़े हैं पिछले कई वर्षों से हम छात्रों की लड़ाई लड़ रहे हैं और छात्रों के साथ न्याय होगा इसको लेकर हमने मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा है की पुलिस भर्ती में जो धांधली हुई है उस परीक्षा को रोककर पूर्ण रूप से नए तौर पर परीक्षा ली जाए और प्रदेश के छात्रों को रोजगार दिया जाए।

ज्ञापन सौंपने मुख्यमंत्री निवास पहुंचे पदाधिकारी पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय,भिलाई के विधायक एवं महापौर देवेंद्र यादव,रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे,एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा,अमित शर्मा(मोंता),भावेश शुक्ला आदि उपस्थित रहे।

Add By MyNews36
Summary
0 %
User Rating 4.7 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In राजधानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन संघ अम्बागढ़ चौकी में बैठक सम्पन्न

राजनांदगांव-छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन संघ की बैठक बी आर सी भवन अम्बागढ़ चौकी में प्रांत…