Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

PCC Chief CG:प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में मोहन मरकाम का नाम सबसे आगे

0
PCC Chief CG

रायपुर-प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए कोंडागांव विधायक मोहन मरकाम का नाम पर जल्द ही मुहर लग सकती है।फिरहाल इस बात को लेकर कांग्रेस कार्यालय दिल्ली से कोई अधिकारिक आदेश नहीं आया है।सूत्रों के मुताबिक कोंडागांव विधायक –मोहन मरकाम के नाम इस रेस में सबसे आगे है।बता दे कि-अगर ऐसा होता है तो मरकाम पहले बस्तरिया PCC प्रेसिडेंट होंगे।छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद बस्तर के किसी नेता को PCC अध्यक्ष नहीं बनाया गया है।राज्य बनने से पूर्व भी मध्यप्रदेश के समय में छत्तीसगढ़ से अध्यक्ष हुए लेकिन,वे भी बस्तर के बाहर से रहे।

मोहन मरकाम ने अध्यक्ष बनाए जाने की खबर मीडिया से ही पता चला है कि-उन्हें PCC का चीफ बनाया जा रहा है।उनके पास पार्टी से कोई आदेश नहीं आया है।कांग्रेस के दिल्ली के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि-मरकाम के नाम पर सहमति बन गई है।अध्यक्ष बनाने के लिए दो नाम आए थे।दोनों ही बस्तर के थे।एक मोहन मरकाम और दूसरे भानुप्रतापपुर के विधायक मनोज मंडावी।इनमें से मरकाम का पलड़ा भारी रहा।

वर्तमान में PCC चीफ का दायित्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पास है और वे कई मौकों पर खुद इस दायित्व को किसी नए चेहरे को सौंपने की बात कह चुके हैं।वैसे लोकसभा चुनाव के बाद PCC चीफ पर नाम की घोषणा होनी थी,लेकिन लोकसभा चुनाव के नतीजों के कारण मामला गड़बड़ा गया।नतीजो के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस्तीफ़े की पेशकश कर दी और पंक्तियों के लिखे जाने तक उन्हे मनाए जाने की कवायद को सफलता नही मिल पाई है। और अब जो नाम तेज़ी से सामने आया है वह नाम है मोहन मरकाम का।

कोडागांव से विधायक मोहन मरकाम सरल सहज हैं और पार्टी के सभी सीनियर नेताओं से उनके अच्छे संबंध हैं।हालांकि,टीएस सिंहदेव से उनकी नजदीकियां अधिक है।लेकिन,मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भी उनके करीबी संबंध हैं।मोहन मरकाम 2013 और 2019 लगातार दो बार के विधायक हैं,उन्होने लता उसेंडी को हराया।सदन में उनकी सक्रियता चर्चाओं में रहती है।मोहन मरकाम दो महीने शिक्षाकर्मी रहे तो लंबे अरसे तक LIC के विकास अधिकारी भी।50 वर्षीय यह नेता संगठन में कई जवाबदेही संभाल चुका है,ब्लाक अध्यक्ष से लेकर मौजुदा समय में AICC का हिस्सा मोहन मरकाम हैं।

इधर मोहन मरकाम को PCC चीफ बनाने के बाद अटकलें हैं कि-अमरजीत भगत को अब मंत्री पद मिल सकता है।हाल ही में सिंहदेव ने मीडिया से बातचीत में संकेत दिए थे कि-बारहवां मंत्री सरगुजा से हो सकता है।जबकि,इससे पहले वे अमरजीत को मंत्री या PCC चीफ का अध्यक्ष बनाने की लगातार खिलाफत करते रहे हैं।चूकि पार्टी ने उनके करीबी मरकाम को बड़ी जिम्मेदारी देने का फैसला कर लिया है तो ऐसे में मंत्री पद के लिए अमरजीत का रास्ता क्लियर समझा जा रहा है।समझा जाता है,मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के पिछले हफ्ते दिल्ली दौरे में इस पर निर्णय हुआ।बघेल और सिंहदेव ने कांग्रेस अध्य़क्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी।सियासी सूत्रों का कहना है,इसी मुलाकात में पीसीसी चीफ और मंत्री पद का फैसला हुआ होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.