Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

Panchayat Elections 2020: 4 रंग के मतपत्रों का होगा प्रयोग,जानिए इस बार कैसे होगी मतगणना

Panchayat Elections 2020

Panchayat Elections 2020: छत्तीसगढ़ में त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन में पंच,सरपंच,जनपद पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य चार पदों के लिये एक साथ मतदान होगा और मतदान के तत्काल बाद मतदान केन्द्र में ही मतगणना किया जाएगा।रायपुर जिले के एनआईटी और शासकीय दानी विद्यालय में गत दिवस करीब 3360 पीठासीन अधिकारियों और मतदान अधिकारी क्रमांक एक को मतदान एवं मतगणना का प्रशिक्षण दिया गया।गौरतलब है कि रायपुर जिले में पंचायत चुनाव (Panchayat Elections 2020) के प्रथम चरण में आरंग और अभनपुर जनपद में 28 जनवरी और तीसरे चरण में 3 फरवरी को सुबह 7 बजे से अपरान्ह तीन बजे तक मतदान होगा।विकासखण्ड मुख्यालय पर की जाने वाली मतगणना (यदि आवश्यक हो तो) पहले चरण के लिए 29 जनवरी को और दूसरे चरण के लिए 4 फरवरी को सुबह 9 बजे से किया जाएगा।

पंच,सरपंच,जनपद सदस्य के लिए सारणीकरण एवं निर्वाचन परिणाम की घोषणा विकासखण्ड मुख्यालय में पहले चरण के लिए 30 जनवरी को सुबह 9 बजे और दूसरे चरण के लिए 5 फरवरी को सुबह 9 बजे की जाएगी।जिला पंचायत के सारणीकरण एवं निर्वाचन परिणाम की घोषणा जिला मुख्यालय में पहले चरण के लिए 31 जनवरी को प्रात: साढ़े 10 बजे से और तीसरे चरण के लिए 6 फरवरी को प्रात: साढ़े 10 बजे से की जाएगी।

मतदान के दौरान मतदाता एक साथ चार लोगों को वोट करेंगे। बीते पंचायत चुनाव की तरह ही इस बार भी पंच के लिए सफेद रंग, सरपंच के लिए नीले,जनपद पंचायत सदस्य के लिए पीले और जिला पंचायत सदस्य के लिए गुलाबी रंग के मतपत्र का उपयोग किया जाएगा।

मतगणना के समय सबसे पहले रंगों के आधार पर मतपत्रों की छटाई का कार्य किया जाएगा और सभी पदों के मतपत्रों के लिए अलग-अलग बंडल बनाये जाएंगे। सबसे पहले पंच पदों के लिए मतगणना का कार्य किया जाएगा। इसके उपरांत सरपंच, जनपद पंचायत सदस्य और फिर जिला पंचायत सदस्य के लिए मतगणना होगी।

मतगणना के दौरान मतगणना टेबल के कुछ फासले पर अभ्यर्थी अथवा उसके एजेंट बैठकर मतगणना का कार्य देख सकेंगे। मतपत्रों की संवीक्षा के दौरान सभी संदेहास्पद मतपत्रों की एक-एक करके जांच पीठासीन अधिकारी द्वारा स्वयं की जाएगी और इसके निर्णय के बारे में वहां उपस्थित अभ्यर्थी और उसके एजेंट को सूचित किया जाएगा।

मतपेटी बनाना, मतपेटी सील करना, मतपत्र का लेखा तथा अन्य कागजात की जानकारी दी गई। इसी तरह मतदान अभिकर्ता, मतगणना अभिकर्ता नियुक्त करने और उनके कार्यों एवं दायित्वों की भी जानकारी दी गई और उनके शंकाओं का समाधान किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.