Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

पंचायत चुनाव 2020: बीस में ‘420’ का आरोपी लड़ रहा कांग्रेस से चुनाव!

छन्नी साहू सहित तीन विधायकों की प्रतिष्ठा दांव पर

420 contesting Congress in twenty,420 contesting Congress in twenty

420 contesting Congress in twenty

राजनांदगांव- जानकर बड़ा आश्चर्य होगा कि खुज्जी विधानसभा के जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 20 में 420 के आरोपी रहे पद्घुमन नेताम को कांग्रेस ने अधिकृत प्रत्याशी घोषित किया है।पद्घुमन कोई और नहीं बल्कि मोहला-मानपुर के पूर्व विधायक सिंघाभेड़ी निवासी तेजकुंवर नेताम,पूर्व गोवर्धन नेताम के सुपुत्र हैं।

बताया जाता है कि- कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी पद्घुमन के और भी कई विवादित मामले रहे हैं।इसके बावजूद उन्हे जिला पंचायत सदस्य के लिए चुनावी मैदान में उतारा गया है।सवाल यह उठता है कि- बात-बात पर दूूसरों की छवि पर कीचड़ उछालने वाले कांग्रेस के आला नेताओं और पीसीसी ने ऐेसे व्यक्ति के प्रत्याशी चयन पर योग्यता का क्या मापदंड निर्धारित किया होगा? और आखिर खुज्जी विधानसभा के किस नेता के रिक्मेंट पर उसे प्रत्याशी घोषित किया गया? फिलहाल इस सीट में कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी पद्घुमन नेताम को जिताना खुज्जी की वर्तमान विधायक छन्नी साहू के अलावा पूर्व विधायक तेजकुंवर नेताम,गोवर्धन नेताम की प्रतिष्ठा का प्रश्र है।जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 20 खुज्जी विधानसभा क्षेत्र का एक प्रमुख इलाका है।इस विधानसभा के क्षेत्र 20 में वैसे तो 16 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं,पर कांग्रेस ने जिन्हे जिला पंचायत सदस्य के रूप में अधिकृत किया है,उसका राजनांदगांव के बसंतपुर थाने में धारा 420 और 34 का अपराध दर्ज है।

मामला कोई ज्यादा पुराना नहीं है बता दे कि- यह मामला 2017 का है जब नौकरी लगाने के नाम पर जिला शिक्षा विभाग के एक अधिकारी सहित अंबागढ़ चौकी जनपद के वर्तमान जनपद सदस्य और पूर्व विधायक तेजकुंवर नेताम के सुपुत्र पद्घुमन नेताम के खिलाफ पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध किया था।इस मामले की चर्चा अब चुनावी गलियारे में जो पकडऩे लगी है।कांग्रेस प्रत्याशी पद्घुमन नेताम को लेकर इसलिए भी सर्वाधिक आक्रोश की स्थिति है क्योंकि अनारक्षित मुक्त सीट होने के बाद भी क्षेत्र 20 चिल्हाटी से उन्हे मैदान में उतारा गया है।

बताया जाता है कि- भाजपा ने क्षेत्र 20 में अरूण कुमार यादव को प्रत्याशी अधिकृत किया है उन्हे दो पत्ती चुनाव चिन्ह मिला हुआ है।इस क्षेत्र में कांग्रेस-भाजपा के बागियों की एक लंबी फेहरिस्त होने से कांग्रेस-भाजपा दोनों के लिए चुनावी मुश्किलें काफी बढ़ी हुई है।

विधायक छन्नी की नहीं चली?

जानकारी के अनुसार जिला पंचायत क्षेत्र बीस चिल्हाटी के लिए विधायक छन्नी साहू ने 5 जनवरी 2020 को अपने लैटरपेड में पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम को लिखे पत्र में बेनी प्रसाद साहू का नाम रिक्मेंट किया था पर उसे टिकट नहीं मिल पाया। आनन-फानन में अंबागढ़ चौकी नगर पंचायत के अध्यक्ष अनिल मानिकपुरी का नाम भी सामने लाया गया पर उसे भी पार्टी से अधिकृत नहीं किया गया, नतीजतन वे दोनों नामांकन भरने के बाद भी चुनाव मैदान से हट गए।कुल मिलाकर क्षेत्रीय विधायक छन्नी साहू की प्रत्याशी अधिकृत किए जाने के मामले में एक भी नहीं चली।यहां कुल 16 लोग चुनाव मैदान में है जिसमें कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी पद्घुमन नेताम को हारमोनियम चुनाव चिन्ह मिला हुआ है।

देखना यह है कि- पद्घुमन के चुनावी हारमोनियम की आवाज मतदाताओं के कानों में गूंजती है या फिर 16 प्रत्याशियों की घमा चौकड़ी के बीच हारमोनियम की आवाज दब कर रह जाती है।इस बारे में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवाज खान से उनका पक्ष जानने मोबाईल पर संपर्क किया गया पर उनसे बातचीत नहीं हो पाई।राजनीतिक जानकारों का मानना है कि-इस सीट से भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी अरूण यादव की चुनावी राह आसान हो सकती है?

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.