Russia-Ukraine War: राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा कि रूस की यह हरकत गलत है। उसने पहले दावा किया था कि वह सिर्फ सैन्य ठिकानों पर ही हमला करेगा, लेकिन रूसी सेना और जंगी जहाज नागरिक इलाकों को भी निशाना बना रहे हैं।

रूसी हमले के बाद यूक्रेन में जबर्दस्त जंग जारी है। चारों ओर खौफ व तबाही का मंजर नजर आ रहा है। इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलादिमिर जेलेंस्की का दर्द छलक पड़ा। उन्होंने कहा- ‘जंग में सबने अकेला छोड़ दिया, जिन्होंने जान गंवाई वे यूक्रेन के हीरो से कम नहीं हैं।’ उन्होंने नागरिक ठिकानों पर रूसी हमलों की निंदा की। यूक्रेन में अब तक 137 सैनिकों व नागरिकों की मौत की खबर है। बमबारी में 316 लोग घायल हुए हैं।

राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा कि रूस की यह हरकत गलत है। उसने पहले दावा किया था कि वह सिर्फ सैन्य ठिकानों पर ही हमला करेगा, लेकिन रूसी सेना और जंगी जहाज नागरिक इलाकों को भी निशाना बना रहे हैं। वे लोगों को मार रहे हैं। शांत शहरों को सैन्य ठिकानों में बदल रहे हैं। इसे कभी माफ नहीं किया जाएगा। राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा कि ओडेसा द्वीप पर रूस ने कब्जा कर लिया है। वहां तैनात सभी यूक्रेनी सीमा रक्षक मारे जा चुके हैं।

उन्होंने रूसी आक्रमण का जवाब देने के लिए रूस के साथ पूर्ण सैन्य घेराबंदी का भी आदेश दिया। यह घेराबंदी 90 दिन चलेगी। सैन्यकर्मियों और सेना में सेवा देने योग्य देशवासियों को तैनात करने को कहा गया है। यूक्रेन मंत्रिमंडल को वित्तीय व अन्य संसाधन जुटाने का भी निर्देश दिया गया है।

एक सप्ताह में रूस समर्थित सरकार बनेगी

उधर, यूक्रेन पर रूसी हमले जारी हैं। दूसरे दिन भी रूसी विमानों ने बमबारी की। जंग शुरू हुए शुक्रवार सुबह 24 घंटे हो गए। अमेरिकी रक्षा अधिकारियों के अनुसार अगले 96 घंटों में यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूस कब्जा कर लेगा। इसके एक सप्ताह के भीतर वहां की मौजूदा सरकार के स्थान पर रूस समर्थित सरकार काबिज हो सकती है।

रूस के दो लड़ाकू विमान मार गिराने का दावा

यूक्रेन की राजधानी कीव में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। इस बीच यूक्रेन ने दावा किया है कि उसने रूस के दो और एयरक्राफ्ट मार गिराए हैं। उसका दावा है कि उसने रूसी सेना को बहुत नुकसान पहुंचाया है। अब तक सात एयरक्राफ्ट, छह हेलीकॉप्टर और 30 टैंकों को तबाह कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.