रायपुर|डॉ.भीमराव अंबेडकर अस्पताल के मरच्यूरी विभाग द्वारा 1 दिन में 10 से ज़्यादा शव का पोस्टमार्टम नहीं करने का नियम लागू करने का छत्तीसगढ़ संगवारी संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजकुमार राठी, कार्यकारी अध्यक्ष मंजुलमयंक श्रीवास्तव,महामंत्री सुब्रत घोष ने कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि-ऐसा नियम मानवता के खिलाफ है,जिस परिवार में किसी व्यक्ति की असामान्य मृत्यु होती है उस परिवार की महिलाओं एवं बच्चों को संभालना घरवालों को मुश्किल हो जाता है और परिवार की ये कोशिश रहती है कि- जल्द से जल्द पोस्टमार्टम करवाकर व्यक्ति का अंतिम संस्कार कर दिया जाए परंतु इस प्रकार के नियम से ना केवल अंतिम संस्कार में विलंभ होगा,बल्कि परिवार को भी कई प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा।राठी ने कहा कि- नियम को पूर्व की तरह यथावत करने की मांग को लेकर संघर्ष समिति का प्रतिनिधित्व मण्डल कल दोपहर 1 बजे अंबेडकर विभाग के अधीक्षक विवेक चौधरी को ज्ञापन सौंपेगा । समस्या का तत्काल निवारण नहीं होने पर संघर्ष समिति द्वारा उग्र कदम उठाने की चेतावनी दी गयी है।प्रतिनिधि मंडल में प्रमुख रूप से कीर्तिभूषण पांडेय,वीरेंद्र सिंह वालिया,विलास सुतार,गिरीश चतुर्वेदी,अशोक गुप्ता, टी.एस.राव,जितेंद्र नाग,अभिषेक गुप्ता,जस्सी रंधावा,परमजीत सिंह सिद्धू,नरेश चंदनानी,जयराम कुकरेजा,राजीव देशपांडे,किशोरचंद नायक,बी.एल.गंगवानी,सौरभ गुप्ता,मोतीलाल सचदेव,सुनील निवारिया,राजेश अग्रवाल,राकेश अग्रवाल,रेखा शर्मा,स्मिता पांडेय,पियूष परिहार,अरुण पोद्दार, प्रमोद साहू,अक्षत शर्मा,असलम खान शामिल होंगे।

Summary
0 %
User Rating 3.95 ( 1 votes)
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In बड़ी ख़बर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

संन्यास पर विचार कर रहे युवराज,मांग सकते हैं T-20 में खेलने की स्वीकृति

नई दिल्ली-सीमित ओवरों के भारत के सबसे सफल क्रिकेटरों में से एक युवराज सिंह अंतरराष्ट्रीय क…