Mynews36
!! NEWS THATS MATTER !!

NAGAR NIGAM RAIPUR: NGT स्टेट कमेटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति धीरेन्द्र मिश्रा ने किया नगरीय क्षेत्र का निरीक्षण

 NGT

रायपुर। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के राज्य स्तरीय कमेटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति धीरेन्द्र मिश्रा ने आज सरोना डम्पिंग यार्ड,संकरी लैण्डफिल साइट का निरीक्षण किया। इस भ्रमण के दौरान उन्होंने विभिन्न वार्ड में डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन की प्रक्रिया को भी देखा। न्यायमूर्ति मिश्रा सहित आला अधिकारियों ने तेलीबांधा तालाब का भी निरीक्षण किया जहाँ नीरी व भेल के सहयोग से जैविक पद्धति से जल शुद्धिकरण प्रक्रिया प्रचालित की जा रही है।इस निरीक्षण भ्रमण के दौरान नगरीय प्रशासन की प्रमुख सचिव अलरमेल मंगई डी,आवास पर्यावरण विभाग की प्रमुख सचिव पी.संगीता, राज्य शहरी विकास अभिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सौमिल रंजन चौबे,नगर निगम कमिश्नर शिव अनंत तायल सहित एन जी टी के सदस्य व आला अधिकारी साथ थे।

एन.जी.टी. के राज्य स्तरीय कमेटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति मिश्रा ने आज सुबह नगरीय क्षेत्र का लगातार भ्रमण किया।सरोना में उन्होंने डम्पिंग यार्ड में कचरा कलेक्शन व प्रस्तावित संयंत्र की अब तक की प्रगति की विस्तृत जानकारी ली।उन्होंने पुराने कचरे के समयबद्ध निपटारे के लिए ठोस कार्ययोजना बनाने निर्देशित किया है।न्यायमूर्ति मिश्रा इस दौरान सकरी स्थित लेण्डफिल साइट भी देखने गए और कार्य एजेंसियों से उनकी गतिविधियों की विस्तार से जानकारी ली,यहां उन्होंने अपशिष्ट के निपटारे हेतु संयंत्र स्थापना के लिए समयबद्ध कार्यक्रम निर्धारित करने हेतु निर्देशित किया है।नगरीय क्षेत्र में डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन के संबंध में भी उन्होंने जानकारी ली। जस्टिस मिश्रा ने सेकंडरी कलेक्शन प्वाइंट पर भी कचरा सड़क या मौके पर न गिरे,इसका भी ध्यान रखने संबंधितों से कहा है।उन्होंने कचरा संकलन में लगे हर वाहन पर सूखे व गीले कचरे के संग्रहण के लिए पृथक पृथक कंपार्टमेंट बनाने और हर नागरिक को कचरा इस आधार पर अलग अलग देने प्रेरित करने कार्य एजेंसी डेल्ही एम.एस.डब्लू साल्युशंस से कहा है।निरीक्षण भ्रमण के दौरान मिश्रा ने जैविक पद्धति से तेलीबांधा तालाब के शुद्धिकरण हेतु अपनायी जा रही पूरी प्रक्रिया का भी अवलोकन किया।मौके पर मौजूद अधिकारियों ने जैविक उपचार के पूर्व व उसके पश्चात का सैम्पल उनके समक्ष प्रस्तुत किया।भेल के अधिकारियों ने उन्हें अवगत कराया कि भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स व राष्ट्रीय पर्यावरण अभियांत्रिक अनुसंधान संस्थान (नीरी) ने रायपुर स्मार्ट सिटी के साथ मिलकर जैविक तकनीक से तेलीबांधा तालाब की सफाई की जा रही है।जैविक उपचार के उपरांत पानी की गुणवत्ता में अपेक्षित सुधार हुआ है और पानी से आने वाली बदबू भी लगातार कम हो रही है।

जरा यह भी पढ़िये:-Father raped daughter : पिता ने बेटी से किया बलात्कार,मामला दर्ज

निरीक्षण भ्रमण के दौरान स्वच्छ भारत मिशन के नोडल अधिकारी हरेन्द्र साहू,सहायक अभियंता योगेश कडू,जोन कमिश्नर चंदन शर्मा सहित कार्य एजेंसियों के प्रमुख उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.