भारत से पेट्रोल खरीदता है नेपाल फिर भी 22 रुपए सस्ता क्यों जानिए वजह

देश में डीजल-पेट्रोल की लगातार बढ़ती कीमतों का असर ऐसे राज्यों पर अलग दिख रहा है, जिनकी सीमा नेपाल से जुड़ी हुई है। इन राज्यों में नेपाल से भारत में पेट्रोल की तस्करी शुरू हो गई है। बता दें कि नेपाल में पेट्रोल यहां से करीब 22 रुपये सस्ता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बिहार के कुछ जिलों में लोग पेट्रोल की तस्करी कर रहे हैं। स्थानीय पुलिस और एसएसबी जवानों ने ऐसे कुछ लोगों को पकड़ा भी है। 

दरअसल, यह खेल इसलिए शुरू हुआ है क्योंकि नेपाल में भारत के मुकाबले पेट्रोल सस्ता है। बिहार के अररिया और किशनगंज जिलों से ऐसे मामले सामने आए हैं। बता दें कि अररिया में पेट्रोल की कीमत इस समय 93.50 रुपये प्रति लीटर है वहीं, नेपाल में यह 70.62 रुपये है। एक सवाल यह है कि नेपाल को पेट्रोल की आपूर्ति भारत से होती है, ऐसे में वहां पर पेट्रोल सस्ता क्यों है? आइए जानते हैं इस सवाल का जवाब

नेपाल को पेट्रोल की आपूर्ति भारत से होती है। दोनों देशों के बीच हुई एक पुरानी संधि के अनुसार इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) नेपाल के लिए खाड़ी देशों से पेट्कोन का आयात करता है। नेपाल को यह पेट्रोल खरीद मूल्य पर बेचा जाता है और केवल रिफाइनरी शुल्क लिया जाता है। यही वजह है कि नेपाल में यहां के मुकाबले पेट्रोल सस्ता है और बढ़ते दामों की वजह से इसकी तस्करी नेपाल से शुरू हो गई है।

वहीं, नेपाल सीमा से सटे इलाकों में पेट्रोल पंप मालिकों का कहना है कि नेपाल से पेट्रोल की तस्करी शुरू हो जाने की वजह से घरेलू बाजार में पेट्रोल की बिक्री प्रभावित हो रही है। हालांकि, अब इसे लेकर पुलिस सतर्क हो गई है। एसएसबी के डीआईजी एसके सारंगी ने बताया कि सीमावर्ती इलाकों में निगरानी सख्त कर दी गई है। किशनगंज जिले में स्थानीय पुलिस भी पैट्रोलिंग में एसएसबी की सहायता कर रही है।

बिहार के कई ऐसे इलाके हैं जहां गलियों-पगडंडियों के रास्ते लोग आसानी से सीमा पार कर लेते हैं। नेपाल से अवैध तरीके से खरीद कर लाया गया पेट्रोल छोटे विक्रेताओं को यहां के मुकाबले कम कीमत पर बेचा जा रहा है। बता दें कि देश में एक सप्ताह से अधिक समय से पेट्रोल डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में तो पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रतिलीटर पर पहुंच गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.