Photo: ANI

नई दिल्ली- मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरा होने के बाद सोमवार को मंत्रिमंडल की अहम बैठक हुई।तीन बजे इसे लेकर प्रेस कांफ्रेंस होगी।सूत्रों के अनुसार इस दौरान बड़े फैसले का एलान किया सकता है। माना जा रहा है कि लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध पर चर्चा हुई।वहीं आर्थिक मामलों की समिति आज अनलॉक-1 के बाद आर्थिक पुनरुद्धार योजना पर चर्चा कर सकती है। इसमें मॉल, रेस्तरां और पूजा स्थलों सहित विभिन्न क्षेत्रों को फिर से खोलने पर बातचीत हो सकती है।

इससे पहले के चरण में सभी तरह की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा हुआ था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को जारी नए दिशा-निर्देशों में कहा, ‘अनलॉक-1 के वर्तमान चरण में आर्थिक गतिविधियों पर जोर रहेगा।’ पिछले सप्ताह के सकल घरेलू उत्पाद के आंकड़ों में 11 साल में विकास की सबसे धीमी गति और नवीनतम तिमाही में लॉकडाउन का बड़ा प्रभाव दिखा था।

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के अनुमान के मुताबिक, अप्रैल में कुछ 12 करोड़ लोगों का नौकरियां चली गई हैं। आर्थिक गतिविधि को पुनर्जीवित करने के प्रयास में सरकार 20 अप्रैल से लॉकडाउन प्रतिबंधों को कम कर रही है। 

इसी कड़ी में पिछले महीने से घरेलू उड़ानें और ट्रेन सेवाएं शुरू कर दी गई हैं। विश्लेषकों ने चार दशकों से भी अधिक समय में अर्थव्यवस्था के पहले पूर्ण-वर्ष के संकुचन की भविष्यवाणी की है जबकि देश कोरोना वायरस से लड़ रहा है। भारत दुनिया में कोरोना मामलों में सातवें स्थान पर पहुंच गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.