बीजापुर MyNews36 प्रतिनिधि- जिला प्रशासन द्वारा प्रवासी मजूदरों को रोजगार दिलाने एवं उनको आजीविका से जोड़ने लगातार प्रयास किया जा रहा है। इस दिशा में मछली पालन,वेल्डींग कार्य, मैकेनिक कार्य , मुर्गीपालन और मनरेगा जैसे कार्यों में प्रवासी मजदूरों को रोजगार मुहैया कराया जा रहा है और साढ़े तीन हजार से अधिक प्रवासी मजदूरो को नरेगा सहित अन्य निजी क्षेत्र के फर्मों एवं प्रतिष्ठानों में रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है।

कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल के निर्देशन में जिला कौशल विकास प्राधिकरण बीजापुर द्वारा लगातार रोजगार प्रदाय कराने के लिए कार्य किया जा रहा है। कौशल विकास प्राधिकरण बीजापुर से मिली जानकारी के अनुसार अन्य जिले तथा दूसरे प्रदेशों में काम-धंधे के लिए गये हुए वापस आये प्रवासी श्रमिकों का काउंसलिंग कर उनकी हुनर,योग्यता और रुचि के अनुरुप उन्हें रोजगार से जोड़ने सकारात्मक पहल किया गया है।

जिसके तहत् महात्मा गांधी रोजगार गांरटी योजनांतर्गत सर्वाधिक 3645 प्रवासी मजदूरों को रोजगार मुहैया कराया जा चुका है, और अधिक से अधिक मजदूरों को मनरेगा से जोड़ने का प्रयास लगातार किया जा रहा है। वहीं मत्स्य विभाग में भी प्रवासी मजदूराें को रोजगार सुलभ कराया गया है। इसके साथ ही विभिन्न निजी क्षेत्र के फर्मो जैसे फेब्रिकेशन, आटोमोटिव, पोल्ट्री, पेटिंग, कंस्ट्रक्शन, एग्रीकल्चर इत्यादि सेक्टर में मजदूरों को योग्यतानुसार रोजगार सुलभ कराया गया है।

MyNews36 प्रतिनिधि एस.डी.ठाकुर की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.