परीक्षा में मास्क को बनाया नकल का हथियार,इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस देखकर उड़े होश,आरोपी गिरफ्तार

File Photo

मास्क कोरोना से बचाव में एक बड़ा हथियार माना जाता है, लेकिन बिहार के वैशाली सिपाही भर्ती परीक्षा में एक नकलची अपने मंसूबे पूरे करने के लिए मास्क का उपयोग शातिर तरीके से किया। सिपाही भर्ती परीक्षा की लिखित परीक्षा में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस देखकर सब हैरान रह गए।

कोरोना से बचाव के लिए मास्क की अनुमति है और इसका फायदा शातिर छात्र ने उठाया। एक नकलची अभ्यर्थी को वीक्षक ने नकल करते हुए रंगेहाथ पकड़ा। आरोपित अभ्यर्थी मास्क में इस डिवाइस को छिपाकर परीक्षा केंद्र के अंदर ले गया था, लेकिन मास्क चेकिंग के दौरान वीक्षकों ने इसे पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

मास्क के अंदर डिवाइस को देखकर सभी हैरान रह गए। मास्क के अंदर बैटरी, मोबाइल बोर्ड, सिम, चार्जर पिन बरामद किया गया। ये सभी डिवाइस इंटरकनेक्ट थे। इसके साथ ही डिवाइस से कॉपर का एक पतला तार कान में लगे ब्लूटूथ के साथ जुड़ा हुआ था। यह डिवाइस पूरी तरह से स्मार्ट फोन की तरह काम कर रहा था।

मोबाइल के पार्ट को अलग-अलग कर के मास्क के अंदर सेट किया गया था। मोबाइल बैटरी के साथ मोबाइल के बोर्ड को काले रंग के टेप के साथ चिपका दिया गया था। यह मास्क मोबाइल डिवाइस ही है। कॉपर तार से जोड़कर यह ब्लूटूथ की तरह काम करता है। पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.