मायके जा तिजहारिनें हुई चोरी की शिकार, मंगलसूत्र और नेकलेस पार

भिलाई :- तीज मनाने के लिए मायके आ रही तीन तिजहारिनें चोरी का शिकार हो गई। सभी बस से अपने-अपने मायके आ रही थी। इसी दौरान अज्ञात आरोपितों ने उनका मंगलसूत्र और नेकलेस चोरी कर लिया। जब वे दुर्ग पहुंची तो उन्हें चोरी का पता चला। दो महिलाओं ने पद्मनाभपुर चौकी और एक महिला ने दुर्ग कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर उनकी पतासाजी शुरू कर दी है।

पुलिस ने बताया कि शिकारी पारा बालोद निवासी शिकायतकर्ता पल्लवी मिश्रा का मायका बैजनाथपारा कचहरी के पीछे दुर्ग में है। वो मंगलवार को बालोद से बस से दुर्ग के लिए रवाना हुई। उसने एक हैंड पर्स में अपना डेढ़ तोला का नेकलेस रखा था। वो पटेल चौक दुर्ग पहुंची तो उसके पर्स का चेन खुला मिला। पर्स चेक करने पर अंदर रखा नेकलेस गायब मिला। चोरी गए नेकलेस की कीमत 60 हजार रुपये आकी गई है। दुर्ग कोतवाली पुलिस ने अज्ञात आरोपित के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।

वहीं खमतराई रायपुर निवासी शिकायतकर्ता चमेली पटेल ने पद्मनाभपुर चौकी में प्राथमिकी दर्ज कराई है। शिकायतकर्ता का मायका लिटिया में है। बस से रायपुर से दुर्ग बस स्टैंड पहुंची और वहां से लिटिया जाने के लिए जिया ट्रेवल्स की बस में बैठी। बस में बैठने के बाद उसने अपना पल्लू ठीक किया तो उसके हाथ उसके गले से लगा। देखा तो गले में पहना मंगलसूत्र गायब था। महिला ने बस में मंगलसूत्र को खोजा भी, लेकिन, उसे कुुछ नहीं मिला।

इसके बाद उसने पद्मनाभपुर चौकी में प्राथमिकी दर्ज कराई। इसके अलावा चैनगंज गुंडरदेही निवासी सरिता शर्मा ने भी पद्मनाभपुर चौकी में प्राथमिकी दर्ज कराई है। शिकायतकर्ता का मायका खैरागढ़ में है। शिकायतकर्ता बुधवार को बस से दुर्ग बस स्टैंड पहुंची और वहां से वो भी जिया ट्रेवल्स के खैरागढ़ जाने वाली बस में बैठी। बस मैं बैठने के बाद उसने देखा तो उसके गले से भी मंगलसूत्र गायब था। दोनों घटनाएं दोपहर एक से डेढ़ बजे के बीच हैं। पद्मनाभपुर चौकी पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर उनकी पतासाजी शुरू की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.