हिन्दी दिवस के अवसर पर पत्रकारिता विश्वविद्यालय में आयोजित की गई संगोष्ठी

रायपुर MyNews36 – कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में हिन्दी दिवस के अवसर पर देश के विकास में हिन्दी पत्रकारिता की भूमिका विषय पर संगोष्ठी एवं विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।इस अवसर पर विश्वविद्यालय के न्यूज लेटर केटीयू संदेश के दीक्षांत विशेषांक का विमोचन भी किया गया।

सूचना को ज्ञान में बदलना आवश्यक – डॉ.सुधीर शर्मा

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए साहित्यकार एवं प्राध्यापक डॉ. सुधीर शर्मा ने कहा कि हिन्दी ने देश के विकास को रेखांकित किया है। हिन्दी विश्व में बड़े बाजार व अवसर के रूप में उभरी है। आज सभी विकसित देशों की नजरें भारत पर हैं। भारत में हिन्दी के बगैर कोई काम या व्यापार करना मुश्किल है। डॉ. शर्मा ने कहा कि हिन्दी पत्रकारिता ने इस देश का भौतिक रूप से विकास किया है। नई पीढ़ी वैकल्पिक मीडिया की ओर आकर्षित हुई है। सूचना के युग को ज्ञान के युग में बदलना है।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बल्देव भाई शर्मा ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि हिन्दी भारत की आत्मा है। हिन्दी का गौरव, सम्मान और हिन्दी से प्रेम हमेशा बना रहना चाहिए। देश के विकास का अर्थ मानव संसाधन को गुणवत्तायुक्त बनाना है। विकास पत्रकारिता के लिए मूल्यों के साथ पत्रकारिता की जानी चाहिए। पत्रकारिता का बोध लगातार अध्ययनशील और अनुभवी व्यक्तियों के संपर्क में बने रहने से प्राप्त होता है। देश के विकास में पत्रकारिता का प्रमुख योगदान है। भाषा का विकास पत्रकारिता का आधार है। उन्होंने कहा कि हिन्दी दिवस के अवसर पर हमें यह संकल्प लेना चाहिए कि हम हिन्दी को अपने पूर्ण दैनिक जीवन में बोलचाल की भाषा बनाएं।

इस अवसर पर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया विभाग के अध्यक्ष डॉ. नरेन्द्र त्रिपाठी ने कहा कि हिन्दी पत्रकारिता की विकास यात्रा उदंत मार्तंड समाचार पत्र से प्रारंभ होकर आज डिजिटल युग में आ पहुंची है। हिन्दी पत्रकारिता की उपयोगिता को समझते हुए अब इंटरनेट आधारित तकनीक भी हिन्दी में उपलब्ध हो रही है।

कार्यक्रम का संचालन डॉ. वैशाली गोलाप एवं आभार प्रदर्शन डॉ. नृपेन्द्र शर्मा ने किया। इस अवसर पर डॉ. तृषा शर्मा, पत्रकारिता विभाग के अध्यक्ष पंकज नयन पाण्डेय, विज्ञापन एवं जनसंपर्क विभाग के अध्यक्ष डॉ. आशुतोष मंडावी, सह प्राध्यापक शैलेन्द्र खंडेलवाल सहित अतिथि प्राध्यापक एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.