like
like

रायगढ़-छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले की एक घटना ने मां की ममता को शर्मसार कर दिया।सरिया क्षेत्र के ग्राम बम्हनी पाली में सनकी व निर्मोही मां ने अपने आठ वर्षीय कलेजे के टुकड़े को सिर्फ इसलिए मौत के घाट उतार दिया,क्योंकि बेटा उसे पसंद नहीं था।महिला ने बेरहमीपूर्वक अपने इकलौते बेटे पर फावड़े से हमला किया।पुलिस ने आरोपित महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

पूरा गांव इस दिल दहलाने वाली घटना से स्तब्ध है।गांव में रहने वाली सुखमती टंडन (35) का पति महावीर टंडन रोजी-मजदूरी कर जीवन गुजारा करता है।पति-पत्नी के साथ घर में आठ साल का इकलौता बेटा लोकेश उनके साथ रहता था।सुखमती को इकलौता बेटा पसंद नहीं था।इसके चलते वह अपने बेटे को हमेशा पीटती थी।उसकी हरकतों को देखकर पति उसे मना करता तो महिला अपने पति के साथ भी विवाद करती रहती थी।

दरअसल,सुखमती को अपने इकलौते कलेजे के टुकड़े से कोई मोह नहीं था।यही वजह है कि वह मासूम बेटे को हर छोटी-छोटी बात पर चिड़चिड़ाती थी और मारपीट करती थी।महिला सुखमती सनकी दिमाग की है।शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे महावीर मजदूरी करने चला गया था।सुखमती अचानक किसी बात पर बेटे लोकेश से इतना नाराज हो गई कि उसने फावड़ा उठाकर सीधे उसके गर्दन व सिर पर हमला किया।इससे मौके पर ही मासूम की मौत हो गई।

Summary
0 %
User Rating 0 Be the first one !
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In क्राइम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन संघ अम्बागढ़ चौकी में बैठक सम्पन्न

राजनांदगांव-छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन संघ की बैठक बी आर सी भवन अम्बागढ़ चौकी में प्रांत…