लता उसेंडी ने कहा कांग्रेसी नेताओं के काले कारनामों का चिट्ठा न खुल जाए इसलिए SP से भयभीत हैं कांग्रेसी

कोंडागाँव/MyNews36 प्रतिनिधि- भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी में डूबे कांग्रेस के लोगों को अपने ही सरकार के अधिकारियों पर भरोसा नहीं रहा। क्योंकि अधिकारी उनके काले कारनामों को उजागर करने में लगे हैं। जिसके चलते कांग्रेसी जानबूझकर अधिकारियों पर भ्रष्टाचार व लेनदेन का आरोप लगा जिले से बाहर तबादला कराना चाह रहे।

पूर्व मंत्री लता उसेंडी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि-राज्य में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही कमीशन खोरी भ्रष्ट्राचार तबादला में लेनदेन सरकार की नीति मे ही शामिल है।

हाल ही में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कोंडागांव पुलिस अधीक्षक बालाजी राव पर लेनदेन व भ्रष्ट अफसर होने का अनर्गल आरोप लगाया है। चूंकि सरकार उनकी है, मीडिया में बयानबाजी से बेहतर यदि उनके पास उचित तथ्य व प्रमाण हो तो तत्काल अधिकारी के खिलाफ सरकार को कार्यवाही करना चाहिए।

कांग्रेसियों की नीयत यही है जो अधिकारी निष्ठा पूर्वक अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रहे हैं, उन पर भ्रष्टाचार का आरोप मढ उनको हटाया जाए। लगातार अधिकारियों पर इस तरह के आरोप लगने से उनका मनोबल टूटता है। पुलिस अधीक्षक की कार्यप्रणाली से जिले के आम नागरिक बेहद खुश, क्योंकि जन समस्याओं का त्वरित निराकरण जो हो रहा।वहीं पुलिस अधीक्षक कोंडागांव में पदस्थ होते ही प्रशासनिक कार्यों में कसावट लानी शुरू की, कई गंभीर मसलों से पर्दा हटाया, वर्षों से जिले के अंदरूनी गांवों में पदस्थ विभागीय अधिकारी कर्मचारियों को शहरी क्षेत्रों में व शहरी क्षेत्रों से ग्रामीण क्षेत्रों में तबादला किया है।

जिले के अंदरूनी क्षेत्रों से शहरी क्षेत्रों में तबादला हुए परिवार बेहद खुश है। कांग्रेसियों को उनकी खुशी नही पच रही, सीधे अधिकारियों पर लेनदेन का आरोप लगा रहे। क्योंकि अधिकारी की इस तरह से त्वरित कार्यवाही से कांग्रेसियों को डर लगने लगा है। अधिकारी को किसी भी तरह से जिले से बाहर भेजना चाहते हैं ताकि कांग्रेसियों के काले कारनामो पर पर्दा डला रहे।

MyNews36 प्रतिनिधि राजीव गुप्ता की रिपोर्ट

Leave A Reply

Your email address will not be published.