mynews36.com

कोलकाता|टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर खड़ी दो बार की चैम्पियन कोलकाता और पंजाब इंडियन टी-20 लीग के ‘करो या मरो’ के मुकाबले में शुक्रवार को एक दूसरे के सामने होंगी।

दोनों टीमें अंकतालिका में सबसे नीचे हैं और प्लेआफ की उम्मीदें बरकरार रखने के लिए उन्हें हर हालत में जीत दर्ज करनी होगी।


दोनों के 12 मैचों में 10 अंक है लेकिन कोलकाता आठ टीमों में छठे स्थान पर है और नेट रनरेट के आधार पर पंजाब सातवें स्थान पर है।

पहले हाफ में दोनों टीमों का प्रदर्शन अच्छा रहा लेकिन दूसरे हाफ में दोनों ने लय खो दी।पहले पांच में से चार मैच जीतने और एक हारने वाली कोलकाता को लगातार छह पराजय झेलनी पड़ी।

mynews36.com

पिछले मैच में उसने मुंबई को हराया लेकिन प्लेआफ में क्वालीफाई करने की उम्मीदें बरकरार रखने के लिये उसे आखिरी दो मैच भी जीतने होंगे।

मुंबई के खिलाफ कोलकाता के शीर्षक्रम के बल्लेबाजों शुभमान गिल (75), क्रिस लिन (54) और आंद्रे रसेल (नाबाद 80) ने एक ईकाई के रूप में अच्छा प्रदर्शन करके दो विकेट पर 232 रन बनाए।कोलकाता ने वह मैच 34 रन से जीता|

mynews36.com

इस सत्र में रसेल शानदार फार्म में रहे हैं और 12 मैचों में 207.69 के स्ट्राइक रेट से 486 रन बना चुके हैं। कोलकाता को उनसे एक बार फिर इस तरह की पारी की अपेक्षा होगी।

बल्लेबाजी जहां उसकी ताकत है, वहीं गेंदबाजों ने निराश किया।सुनील नारायण और पीयूष चावला मुंबई के खिलाफ महंगे साबित हुए।रसेल ने गेंदबाजी में भी 25 रन देकर दो विकेट लिए।

mynews36.com

दूसरी ओर पंजाब ने लगातार तीन मैच गंवाए हैं और उनकी स्थिति और भी खराब है।केएल राहुल ने 12 मैचों में 520 रन बनाये हैं और सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में डेविड वार्नर के बाद वह दूसरे स्थान है।क्रिस गेल ने भी 448 रन बनाए हैं लेकिन वह लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे|

मयंक अग्रवाल, निकोलस पूरन और डेविड मिलर को मध्यक्रम में अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी।गेंदबाजी में कप्तान आर अश्विन और मोहम्मद शमी का प्रदर्शन अच्छा रहा है।

Summary
0 %
User Rating 0 Be the first one !
Load More Related Articles
Load More By MyNews36
Load More In खेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Monsoon:मानसून फिर हुआ सक्रिय,आज फिर तेज बारिश की संभावना

रायपुर-बरसात के मौसम में प्रदेश की जनता का पसीना छूट रहा है।किसानों का साथ के शासन,प्रशासन…