Jal Jeevan Mission : चालू वित्तीय वर्ष में 25 अक्टूबर तक एक लाख से अधिक ग्रामीणों को दिए गए घरेलू पेयजल कनेक्शन

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने योजना से लाभान्वित परिवारों को बधाई दी

jal-jeevan-mission

रायपुर / Jal Jeevan Mission- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में 25 अक्टूबर तक प्रदेश के एक लाख से अधिक ग्रामीणों के घरों में पेयजल कनेक्शन देने तथा अब तक 6 लाख 50 हजार ग्रामीण परिवारों को घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से पेयजल उपलब्ध कराने की विशेष उपलब्धि पर, जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) के अंतर्गत सभी भागीदारों को तथा इस योजना से लाभान्वित परिवारों को बधाई दी है

जल जीवन मिशन के तहत प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रति व्यक्ति प्रति दिन 55 लीटर पेयजल उपलब्ध कराने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। इस मिशन के तहत वर्ष 2023 तक देश के ग्रामीण क्षेत्रों में 39 लाख से अधिक ग्रामीण घरों में घरेलू नल कनेक्शन से पेयजल देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में नल कनेक्शन के माध्यम से हर घर में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति करना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। जल जीवन मिशन में प्रति व्यक्ति प्रति दिन 55 लीटर पेयजल की आपूर्ति की जानी है, इस मापदण्ड को ध्यान में रखते हुए, जल की उपलब्धता को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए, नरवा योजना के तहत प्रदेश में वाटर रिचार्जिंग के कार्य बड़े पैमाने पर किए जा रहे हैं। पिछले पौने वर्षों में वन विभाग, जल संसाधन विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग सहित विभिन्न विभागों के समन्वय से जल संरक्षण और संवर्धन के किए जा रहे कार्यों से अनेक इलाकों में भू-जल स्तर में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में नल कनेक्शन के माध्यम से हर घर में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति करना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। जल जीवन मिशन में प्रति व्यक्ति प्रति दिन 55 लीटर पेयजल की आपूर्ति की जानी है, इस मापदण्ड को ध्यान में रखते हुए, जल की उपलब्धता को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए, नरवा योजना के तहत प्रदेश में वाटर रिचार्जिंग के कार्य बड़े पैमाने पर किए जा रहे हैं। पिछले पौने वर्षों में वन विभाग, जल संसाधन विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग सहित विभिन्न विभागों के समन्वय से जल संरक्षण और संवर्धन के किए जा रहे कार्यों से अनेक इलाकों में भू-जल स्तर में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में नल कनेक्शन के माध्यम से हर घर में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति करना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। जल जीवन मिशन में प्रति व्यक्ति प्रति दिन 55 लीटर पेयजल की आपूर्ति की जानी है, इस मापदण्ड को ध्यान में रखते हुए, जल की उपलब्धता को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए, नरवा योजना के तहत प्रदेश में वाटर रिचार्जिंग के कार्य बड़े पैमाने पर किए जा रहे हैं। पिछले पौने वर्षों में वन विभाग, जल संसाधन विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग सहित विभिन्न विभागों के समन्वय से जल संरक्षण और संवर्धन के किए जा रहे कार्यों से अनेक इलाकों में भू-जल स्तर में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.